तू मेरी बीवी को चोद ले यार

('')


Author :Unknown Update On: 2015-12-29 09:56:38 Views: 4586

में आप लोगो को एक हॉट रियल स्टोरी बता रहा हु अपने दोस्त की बीवी की. चोदै के बारे में मेरा एक बचपन का दोस्त हे हम दोनों बड़े एक साथ हुए और उसकी शादी हो गई शादी के कुछ दिनों के बाद वो हमेशा भाभी की चुदाई केसे करता हे

बताता रहता था. जिसे सुनकर मेरा मन भी चुदाई करने को करता था और में सोचता था की वो केसे भाभी को चोदता होगा. और भाभी केसे चोद्वाती होगी. एक दिन मेने उसे कहा यार मेरा मन चोदै के लिए करता हे, और मेरे पास कोई जुगाड भी नहीं

हे. उसने कुछ भी नहीं कहा लेकिन दुसरे दिन उसने मुझे कहा की में उसकी बीवी को चोदना चाहू तो चोद सकता हूँ. उसे कोई प्रॉब्लम नहीं. मेने कहा की क्या भाभी चोदै के लिए रेडी हे, तो उसने कहा नहीं लेकिन लेकिन मान जाएगी क्युकी

उसे ग्रुप सेक्स की स्टोरी सुनने में अच्छा लगता हे. और में उसे तुम्हारे बारे में कुछ नहीं बताऊंगा. आज रात को में जब उसे ग्रुप सेक्स की स्टोरी सुनाकर उसकी आँखों पर पट्टी बाँध कर चोदुंगा तभी तुम भी चोद लेना बाद में

उसे बताएंगे की तुमने भी उसकी चुदाई की हे. रात को में उसके रूम में छुप गया, फिर भाभी आई और बोली की तुम्हारा दोस्त गया क्या..? तो वो बोला की हां गया तो भाभी ने दरवाज़ा बंद कर दिया और बोली की कोई सेक्सी ब्लू फिल्म दिखाओना.

फिर मेरे दोस्त ने सेक्सी सीडी लगा दी. भाभी देखते ही देखते सेक्सी हो गयी. मेरे दोस्त के कपडे उतारने लगी, फिर अपने कपडे उतार दिए में तो भाभी का जवानी से भरा बदन देख कर पागल हो गया. और उसे छूने के लिए मचल ने लगा. मेरे

दोस्त ने भाभी की आँखों पर पट्टी बाँध कर मुझे पास में आने को इशारा किया. और भाभी के बदन से लिपट गया. सामने भाभी को नंगी देख कर्मेरे लंड में तूफ़ान आ गया.फिर मेरा दोस्त भाभी की चूत घोड़ी बनाकर लेने लगा थोड़ी देर में उसने

अपना लंड निकाल लिया. और मुझे इशारा किया की में लंड डाल दू. मेने तुरंत ही अपना लंड भाभी की चिकनी चूत में डाल दिया. लंड जाते ही भाभी बोली की अचानक तुम्हारा लंड इतना मोटा क्यों लग रहा हे ? तो मेरे दोस्त ने उसकी आँखों पर

से पट्टी निकाल दी तो भाभी ने पलट कर मुझे देखा तो मुस्कुराई और कहा की मुझे अच्छा लग रहा हे. में भी यही चाहती थी की मेरी चुदाई दो दो लंड से हो मुझे आज खूब जोर जोर से चोदो. फिर क्या था में तो भाभी को मस्ती में चोदने लगा और

भाभी आहें भरने लगी. में कभी भाभी की कमर पकड़ता तो कभी चूची. फिर थोड़ी देर बाद मेने लंड निकाल लिया और भाभी को लेता दिया और कहा की तूम बहोत सेक्सी लग रही हो. और भाभी की चूत को अपने मुह में लेकर चूसने लगा. भाभी सिसकने लगी

और में चूत को अपने होटो से जोर जोर चूमने लगा भाभी एक दम तदपने लगी. और कहा की मेरी प्यासी चूत में अपना मोटा लंड डाल कर इसकी प्यास बुजादो में फिर में भाभी के ऊपर चड कर चूत में लंड डाल दिया. और चूची मुह में डाल कर स्वर्ग

का मज़ा लेने लगा. उस समय मेरे दोस्त ने भाभी से कहा की में तो पहले ही जानता था की तुम चोदवा लोही क्यू की ग्रुप सेक्स की स्टोरी सुनकर तुम बहोत जोशीली हो जाती थी. आज तुम्हे चोदते हुए देखने में बहोत मज्जा आ रहा हे. लेकिन

तुम दोनों मेरे सामने ही चुदाई करना नहीं तो लोगो को शक हो शकता हे तो भाभी ने कहा की अगर किसी को न पता लगा तो, हर औरत चोद्वाना चाहती हे और यहाँ तो आप मुझे चोदवा रहे हे. अब तो में हर रात आप दोनों से चोद्वाना चाहती हूँ. फिर

रात भर मेने और मेरे दोस्त ने मिलकर भाभी खूब चोदा, उसके पुरे बदन को खूब प्यार किया. फिर हर २-३ दिन में हम तीनो साथ साथ चुदाई करने लगे. फिर एक दिन मेरे दोस्त की ट्रांसफर पुणे हो गई. और हम लोग अलग हो गए. आज कल मेरा मन चुदाई

के लिए तड़पता हे जिसे भी अपनी चूत मरवानी हो वो इस कहानी पर कमेन्ट करो मैं आप का कोंटेक करूँगा.

Give Ur Reviews Here