वेटिंग लिस्ट बाली भाभी को चोदा ट्रेन मे


Author :सूरज Update On: 2016-02-08 Views: 2022

डियर फ्रेंड मेरा नाम सूरज है मैं 21 साल का नौजवान हू, आप आपको एक सच्ची कहानी सुनाने जा रहा हू, जो की ट्रेन की है, ये स्टोरी 6 मंत्स पहले की है, एक बार मे अपने फ्रेंड की शादी मे उनका गाव गया था. वहा पे शादी होने के बाद मै ओर

मेरा एक फ्रेंड उसी रात चले आए. हमने रिज़र्वेशन की थी रत के 10 बजे की ट्रेन थी. हमारी ट्रेन टाइम पे आ गयी जब हम अपने बोगी मे गये तो वाहा हमारी सीट पर एक भाभी थी उमर करीब 32 के आस पास ओर उसका पति ओर एक 5 साल का बचा बेटा था.

हमने उनसे रिक्वेस्ट की की ये हमारी सीट है आप लोग हट जाएे तो उस भाबी ने कहा की हमारी वेटिंग सीट है कहीं जगह नही मिलेगी तो तोड़ा अड्जस्ट कर लेंगे. तो हम ने भी हा कर दी. हम दोनो फ्रेंड अप्पर बाली सीट पे चले गये ओर वो

फॅमिली नीचे थी. कुछ टाइम बाद मई नीचे बैठने आ गया क्यों की मुझे नींद नही आराही थी तो उस भाभी के हज़्बेंड ने बोला की में उपर चला जाता हूँ मेने भी हा कर दी. जब उस भाभी का पति उपर चला गया तब मेने उस भाभी को ध्यान से देखा तो

वो एक दम गोरी. मस्त औरत थी बड़े बूब्स आक्चुयल साइज़ मुझे पता नही. में उससे कंटिन्यू देखता रह गया ओर वो भी मुझे देख रही थी. मन तो कर रहा था की वही पकड़ कर चोद डु पर में अपने आप पे कंट्रोल किया ओर बैठ गया फिर मेने उनसे

बात करना चालू किया. तो मालूम पड़ा की वो कल्याण की रहने वाली थी. ओर थोड़ा यहा वाहा की बाते की ओर मुझे नींद आने लगी तो में वही अपने पैर लंबे कर के सो गया.ओर परदा लगा लिया. थोड़ी ही टाइम के बाद जुब मेरी आँख खुली तो मेने

देखा की भाभी भी सो गयी है ओर मेरा थाइस उनकी गांद को टच कर रहा था क्यू वो विंडो की तरफ़ मूह करके सोई थी ओर अपने बचे से लिपटी हुए थी. उनका पैर मेरे छाती को टच हो रहा था मेने सोचा ये अछा मौका है. तो में भी विंडो की तरफ मूह

करके सो गया ओर अब मेरा लंड उसकी गंदको टच कर रहा था ओर एक दम खड़ा हो गया था.कुछ टाइम तक मे ऐसे ही रहा ओर मेने नोटीस की की वो पहले से ज़्यादा चिपक गयी थी.मुझे लगा की शायद ट्रेन के धक्को के कारण हो गया होगा.ओर मे उनके

साड़ी के अंदर हाथ डालना सुरू किया .क्या सॉफ्ट पैर ओर थाइस थे. मुझे मज़ा आरहा था .फिर मेने हाथ ओर भी अंदर डाला ओर मेरा हाथ उनकी चूत तक पहुँच गया.उन्होने पनटी पहनी थी में पनटी के उप्पर सही सहलाने लगा ओर वो अचानक हिली

मेने झट से अपना हाथ बाहर निकल लिया में डर गया था की वो अब क्या बोलेगी. वो उठ कर बैठ गयी ओर बोली की तुम ये क्या कर रहे थे.मेरी हालत खराब हो गयी थी.मेने सॉरी बोला वो एक गुस्से से बातरूम की तरफ चली गयी| जाते वाक़त

उन्होने मुझे इसरा किया पीछे आनेको मे तो दर की अब क्या करेगी वो.फिर वो बातरूम मे घुस गयी ओर मुझे अंदर बुलाया.तब मे समझ गया की भाई ये चुदेगी आज. मे जल्दी से अंदर गया ओर लॉक कर दिया.वो मुझे बोलने लगी की में कब की प्याससी

हूँ सेक्स की मेरी प्यास बुझाओ ना प्लीज़ देर मत क्रो मेने झट उसे किस करने ल्गा और वो भी मेरा साथ देने लगी करीब 2 मीं तक हमने स्मूच किया.मे एक हाथ से उसके बूब्स दबाने ल्गौसकी सारी नीचे की ओर ब्लाउस ओपने किया तो उसने

ब्रा नही पहनी थी ओर मे उसके बूब्स सक करने गया वो सिसस्कियाँ भरने लगी ओर मेरे सिर को ज़ोर से बबाने लगी अपने बूब्स पे फिर अपना हाथ मेरे लंड पे डाला ओर ओर जीन्स के उपर से सहलाने लगी ओर नीचे बैठ गयी ओर मेरा पैंट ओपन कर

के सक करने लगी ऐसा लग रहा था की ओ जन्मो की भूकि हेल अंड की. 10 मीं तक वो उसे चुस्ती रही ओर मे झर्नेPहिर क्या था मेने झट उसे किस करने ल्गा ओए वो भी मेरा साथ देने लगी करीब 2 मीं तक हमने स्मूच किया.मे एक हाथ से उसके बूब्स

दबाने ल्गौसकी सारी नीचे की ओर ब्लाउस ओपने किया तो उसने ब्रा नही पहनी थी ओर मे उसके बूब्स सक करने गया वो सिसस्कियाँ भरने लगी ओर मेरे सिर को ज़ोर से बबाने लगी अपने बूब्स पे फिर अपना हाथ मेरे लंड पे डाला ओर ओर जीन्स

के उपर से सहलाने लगी ओर नीचे बैठ गयी ओर मेरा पैंट ओपन कर के सक करने लगी ऐसा लग रहा था की ओ जन्मो की भूकि हेल अंड की.10 मीं तक वो उसे चुस्ती रही ओर मे झरने वाला था की वो रुक गयी ओर अपने हाथ से लंड को हिलने लगी .ओर मे झार गया

उसने सारा कम अपने मूह मे ले लिया. फिर मे उसे किस करने ल्गा ओर सक करने ल्गा उसके बूब्स मेरा लंड फिर खरा हो गया.मेने उसकी सारी अप्पर उठाई ओर उसकी पनटी नीचे कर दी उसकी छूट को जीब से चटने ल्गा वो ज़ोर ज़ोर से आह. आह……… आह

… ऑश करने लगी.5 मीं चाटने के बाद मे रुक गया ओर अपना लंड उसकी चूत पर रखा ओर रगड़ने ल्गा वो बोली राजा अब मत तडपा डाल दे अंदर मे ने अपना 6 इंच का लंड उसकी चूत मे डाला तो आधा लंड ही अंदर गया था की वो चिल्लाई आआआआआअ आराम

सस्स्स्सीए काआअरर्र्र्रररओ आआआआआआअ मैं कहा सुनने वाला था मेने पूरे झटका मरता हुए पूरा लंड उसके अंदर डाल दिया वो च्िलाई आआआआ माआररर्र्र्गाआई मे ज़ोर के झटके देने ल्गा उसे भी मज़ा आने ल्गा . वो बोलेने लगी की चोद

राजा छोड़ ओर ज़ोर से चोद मुझे ओर जोश आने ल्गा मे ज़ोर से चोद्ने ल्गा ओर करीब 15 मीं बाद मे झर गया इतने मे वो दो बार झार चुकी थी ओर में उसके अंदर ही झार गया.फिर हम थोड़ी वक़्त ऐसे ही रहे ओर अपने कपड़े ठीक किए जब बाहर आए

तो देखा की उसका स्टेशन नज़दीक आ गया था ओर हम अपनी सीट पे आकर बैठ गये .उतने उसका पति भी उठ गया और नीचे आ गया क्यों को उन्हे वाहा उतंरना था, मैने फस्ट टाइम ऐसी हॉट भाभी को देखा, जो की लड़कियों से भी ज़्यादा हॉट और सेक्सी

लग रही थी आपको ये कहानी कैसे लगी रेट ज़रूर का

Give Ur Reviews Here