मस्त चूत

('')


Author :हैप्पी Update On: 2016-02-13 Views: 1640

हेलो दोस्तो, मेरा नाम हैप्पी है और मैं हरियाणा का रहने वाला हूँ… मुझे सेक्सवासना पर स्टोरी पढ़ना बहुत पसंद है और मैंने इस साइट की लगभग सारी कहानियाँ पढ़ी हैं। मैं आज अपनी स्टोरी शेयर करना चाहता हूँ… ये

स्टोरी आज से 5 साल पहले की है, जब मैं 20 साल का था… ये स्टोरी मेरी और मेरे भाई की साली की है जब मेरी भाभी को बच्चा हुआ तो घर में उनकी हेल्प के लिए, अपनी बहन को बुला लिया। वो भी मेरी ही उम्र की थी और मेरी उसके साथ अच्छी

बनती थी। उसका नाम सीमा (बदला हुआ) है और वो मुझे पसंद करती थी और मैं तो उसके पीछे पागल था। क्या मस्त फिगर था, उसका “34-26-36” उसे देखते ही मेरा तो लण्ड खड़ा हो जाता था!!! उस टाइम मैं फ्री था। मैंने बारहवीं के पेपर दिए थे और

मैं घर पर ही रहता था। हम हमेशा आपस में बातें करते रहते थे और एक दिन मैंने उसे “आई लव यू” बोल दिया और उसने भी हाँ कर दी। अब हमें जब भी कोई जगह मिलती हम चिपक जाते और किस करने लगते। मैं उसके बूब्स को मसलता और चूस

लेता… मैंने उससे कई बार सेक्स करने के लिए कहा पर वो मना कर देती!! ऐसे ही एक हफ़्ता गुजर गया। एक दिन भाभी की लड़की बीमार हो गई और उसे अस्पताल में दाखिल करना पड़ा। भाभी को भी उसके साथ वहीं रहना पड़ा और मेरी माँ भी

भाभी के साथ अस्पताल में ही रहती थीं। अब घर पर मैं और सीमा ही रहते थे!!! !! मैंने एक दिन उसे पकड़ लिया और किस करने लगा और साथ में उसके बूब्स भी दबाने लगा। वो भी मेरा साथ देने लगी!! वो हल्के हल्के गरम हो रही थी और मैंने

उसका सूट निकाल दिया!! उसने पहले मना किया पर बाद में मेरे ज़ोर देने पर वो मान गई। मैंने अब उसकी सलवार के ऊपर से ही उसकी चूत पर हाथ फेरना शुरू कर दिया। उसे भी मज़ा आ रहा था, मैंने उसकी सलवार भी उतार दी… अब वो मेरे

सामने सिर्फ़ काले रंग की ब्रा पैंटी में थी!!! क्या मस्त लग रही थी, वो… फिर मैंने उसकी ब्रा भी उतार दी और उसके चुचे चूसने लगा। उसके मुँह से सिसकारियाँ निकलने लगीं। अब उसने अपनी आँखें बंद कर लीं… मैंने उसके होंठों

को चूस चूस के गुलाबी बना दिया और फिर मैंने उसे बेड पर लिटा लिया… अब तक मैंने उसकी पेंटी भी उतार दी… … वह क्या “मस्त चूत” थी!! !!! बिल्कुल गुलाबी रंग की और उसने अपने बाल भी शायद एक या दो दिन पहले ही साफ किए होंगे। इधर

मैंने अपने कपड़े भी उतार दिए और वो मेरा लण्ड देख कर डर गई… मेरा 11 इंच का लण्ड है और मोटा भी बहुत है!! मेरे ज़ोर देने पर वो उसे हाथ में लेकर हिलाने लगी। मैंने उसे चूसने के लिए कहा तो उसने मना कर दिया। अब मैंने उसकी

चूत मैं उंगली डाल दी और वो मज़ा ले रही थी… फिर मैं उसकी चूत चूसने के लिए उसके ऊपर आ गया और अपनी जीभ उसकी चूत में डाल दी… उसके मुँह से – सससी उूउऊँ उम्म्म की आवाज़ें निकल रही थीं!!! अचानक ही उसने मेरी लण्ड पकड़ के

चूसना शुरू कर दिया। हम 69 की पोजीशन में आ गये और अब वो बोल उठी – प्लीज़, अंदर डाल दो!! मैं भी देर ना करते हुए, उसके ऊपर आ गया और अपना लण्ड उसकी चूत पर सेट कर लिया और मैंने धक्का मारा!!! चूत ज़्यादा चिकनी होने के कारण, वो

सरक गया… … मैंने उसे दोबारा सेट किया और धक्का दिया और उसके मुँह से चीख निकल गई… !! उसका और मेरा पहली बार था, तो मैं भी डर गया और रुक गया वो रोने लगी और बाहर निकालने के लिए तड़फने लगी। मैंने फिर धक्का लगाया और इस बार

पूरा लण्ड उसकी चूत मे चला गया!!! उसकी आँखों से आँसू निकल आए… मैं थोड़ी देर के लिए रुका। थोड़ी देर बाद उसने नीचे से धक्के लगाना चालू कर दिया और मैं भी ऊपर से झटके दे रहा था… वो बोल रही थी – ज़ोर से करो, मज़ा आ गया और

वो बड़बड़ा रही थी!! मैंने भी उसे गाली देनी शुरू कर दी – तेरी माँ की चूत, भोसड़ी की… कब से तडफा रही थी, आज नहीं छोड़ूँगा तुझे… वो बोली – मैं तो तेरे ही नीचे पड़ी हूँ, जब तक दिल करे कर ले!!! और हमारी आवाज़ें पूरे कमरे में

गूँज रही थीं… फ़च-फ़च की आवाज़ों से मुझे और मज़ा आ रहा था, वो अब तक कई बार झड़ चुकी थी। मैं भी निकलने वाला था। मैंने उससे कहा – मेरा निकलने वाला है और लगभग तुरंत ही उसकी चूत मेरे वीर्य से भर गई!! हम 15 मिनिट ऐसे ही

पडे रहे, उसके खून से सारी चादर खराब हो गई थी!!! उससे उठा भी नहीं जा रहा था!!! मैंने उसे दर्द की दवाई भी दी… उसके बाद वो जब तक मेरे घर रही, हमने सेक्स के मज़े लूटे!!! !!

Give Ur Reviews Here