Mere Jaisa Gandu Gay Koi Nahi

('')


Author :राजू Update On: 2016-02-23 Views: 3626

मेरा नाम राजू गांडू है। मैं इलाहाबाद में रहता हूँ.. मैं 22 साल का हूँ.. मैंने इस पोर्टल पर बहुत सी कहानियाँ पढ़ी हैं और आज मैं आप सबके सामने अपनी कहानी रखने जा रहा हूँ। मेरे तीन दोस्त हैं केवल उनको ही पता है कि मैं एक

गान्डू गे Gandu Gay हूँ। बात तीन महीने पहले की है.. जब मेरे ग्रुप में एक नया दोस्त सोनू आया था, मुझे ग्रुप सेक्स बहुत ही अच्छा लगता है। मेरे ग्रुप में पहले से ही राजू, पीके, दीपक थे.. और अब सोनू भी आ गया है। एक दिन मैं घर में

अकेला था.. तो मैंने पीके को बुला लिया वो थोड़ी देर से आया। तब तक मैंने एक ट्रिपल एक्स मूवी का इंतज़ाम कर लिया था। मैं और पीके मूवी देखने लगे, मूवी देखते-देखते ही पीके गरम हो गया और मुझसे लिपटने लगा। थोड़ी ही देर में

हम दोनों ने कपड़े उतार दिए। पीके का लंड 6 इंच लंबा और 4.5″ व्यास में मोटा है.. पीके ने अपना लंड मेरे मुँह में दे दिया.. साले का लौड़ा गधे जैसा है। मैं उसके लंड को चूसने लगा। थोड़ी देर बात हम 69 में हो गए और मेरा लंड

चूसते-चूसते ही वो मेरी गाण्ड में उंगली करने लगा। पहले एक उंगली.. फिर दो उंगलियाँ.. लगभग 10 मिनट बाद उसने मुझे डॉगी स्टाइल में सोफे पर खड़ा किया और अपना लंड मेरी गाण्ड में डाल दिया और ज़ोर ज़ोर से धक्के मारने

लगा। मैं भी ‘अम्महाअ..’ करने लगा। करीब 15 मिनट तक मेरी चुदाई करने के बाद.. वो मेरी गाण्ड में ही झड़ गया। मैंने उससे कहा- मुझे मज़ा नहीं आया.. तो उसने कहा- और कितना देर तक चाहिए था भोसड़ी के.. मैंने कहा- कम से कम तुम्हारे

बाद कोई और होता.. तो मजा आता। तो उसने कहा- दीपक को बुला लेते हैं। मैंने कहा- वो बाहर गया हुआ है। तो उसने कहा- क्यों ना सोनू को बुला लेते हैं? मैंने उससे कहा- मैंने सोनू के साथ कभी नहीं किया है.. तो उसने कहा- सोनू का लंड

उससे भी बड़ा है.. ऐसा सुनते हैं। मैं तैयार हो गया.. तो उसने कहा- ठीक है.. मैं उससे बात करूँगा। लगभग तीन दिन बाद उसने कहा- सोनू आने को तैयार है। मैंने कहा- उससे लेकर मेरे घर में ही आ जाओ.. मैं इंतज़ार करने लगा, एक घंटे

बाद पीके सोनू को ले कर आया। मैंने उन्हें अन्दर करके दरवाजा बंद कर लिया और अपने कमरे में चला गया, थोड़ी देर तक हम बातें करते रहे। फिर पीके ने कहा- मैं एक नई ट्रिपल एक्स की सीडी लाया हूँ। मैंने कहा- तो लगा दो.. उस

फिल्म में एक लड़की की चुदाई दो आदमी करते हैं, उसको देख कर पीके ने कहा- राजू आज तेरी चुदाई ऐसे ही करेंगे। मैंने कहा- कोई बात नहीं है.. मैं तो तैयार ही हूँ.. पर ज़रा सोनू से भी पूछ लो। तो सोनू ने कहा- चल मज़े करते

हैं। मूवी देख कर हम गरम तो हो ही गए थे दोनों ने मिल कर मेरे कपड़े निकाल दिए और खुद भी नंगे हो गए। सोनू का लंड 7″ इंच लंबा और काफ़ी मोटा था। पीके ने अपना लंड मेरे मुँह में दे दिया और सोनू ने मेरा लंड अपने मुँह में डाल

लिया। कुछ देर तक चूसने के बाद पीके का लंड सोनू चूसने लगा और साथ ही साथ मेरी गाण्ड में उंगली करने लगा। थोड़ी देर बाद मैंने कहा- अब देखो मूवी में क्या हो रहा है। तो हम सबने देखा कि लड़की डॉगी स्टाइल में चुद रही थी और

एक लंड चूस रही थी। सोनू ने भी ऐसा ही करने को कहा। सोनू ज़मीन पर लेट गया और मैं उसका लंड चूसने लगा.. तो पीके ने पीछे से मेरी चुदाई करनी शुरू कर दी। दस मिनट बाद पीके नीचे और सोनू ऊपर आ गया। सोनू का लंड काफ़ी मोटा था और

जब वो पूरा बाहर निकाल कर फिर से अन्दर डालता तो मुझे बड़ा ही मज़ा आ रहा था। सोनू ने लगभग 15 मिनट तक मेरी चुदाई की.. मेरी गाण्ड लाल हो गई थी.. पर मज़ा भी बहुत आया था। सोनू मेरी गाण्ड में ही झड़ गया और पीके मेरे मुँह

में.. थोड़ी देर बाद जब सबने अपने कपड़े पहन लिए.. तो सोनू और पीके ना जाने क्या बात कर रहे थे। जाते वक़्त सोनू ने कहा- राजू तुझे कल और भी मज़ा आएगा। मैं समझ नहीं पाया कि उसके कहने का क्या मतलब है। मैंने सोचा कि कल का कल

देखा जाएगा। दूसरे दिन दोनों फिर आ गए और इस बार वो अपने साथ एक लकड़ी का सोटा लेकर आए थे। मैं समझ नहीं पाया कि उससे वो क्या करेंगे। मैंने इस बारे में सोचा ही नहीं। मैंने अपने कपड़े उतारे और बिस्तर पर जाकर लेट गया।

वो दोनों भी अपने कपड़े उतार कर बिस्तर पर आ गए। मैंने सोनू का लंड चूसना शुरू किया और पीके ने मेरी गाण्ड में उंगली करना शुरू की। थोड़ी देर बाद सोनू की जगह पर पीके आ गया और सोनू मेरी गाण्ड में उंगली करने लगा। उंगली

करते-करते मेरी गाण्ड जब फैल गई.. तो सोनू ने वो सोटा.. जिसे वो अपने साथ लाया था.. उस पर कोहिनूर का एक्सट्रा डॉटेड कन्डोम लगा दिया और थूक लगा कर मेरी गाण्ड में डालने लगा। मैंने कहा- अबे.. ये क्या कर रहे हो तुम.. अपना लंड

क्यों नहीं डालते? तो वो हँसने लगा और कहने लगा- अभी मज़ा देखो। धीरे-धीरे करके उसने 9″ इंच लंबा और 5″ इंचा मोटा सोटा मेरी गाण्ड में घुसेड़ दिया। उस पर डॉटेड कन्डोम होने की वजह से और भी मज़ा आ रहा था। तब सोनू ने कहा-

खड़े हो जाओ और सोफे पर डॉगी स्टाइल में बन जाओ। मैंने वैसा ही किया। सोनू ने पूछा- मज़ा आ रहा है? तो मैंने कहा- हाँ बहुत आ रहा है। उसने कहा- तुम अब हमारे लंड को चूसो और यह सोटा तुम्हारी गाण्ड मारेगा। मैंने बारी-बारी

से दोनों के लंड को चूसना शुरू किया। जब मैं एक के लंड को चूसता तो दूसरा पीछे से बेलन से मेरी चुदाई करता। ऐसा करते-करते एक घंटा बीत गया और वो दोनों भी नहीं झड़े.. तो मैंने कहा- मादरचोदो.. अब बस भी करो.. मेरी गाण्ड लाल हो गई

है। तो सोनू ने सोटा निकाल लिया और अपना लंड डाल कर चुदाई करने लगा। दस मिनट बाद वो झड़ गया.. फिर पीके भी मेरी चुदाई करके मेरी गाण्ड में ही झड़ गया। सच कहूँ.. तो ऐसा मज़ा मुझे पहले कभी नहीं आया था। उस दिन पूरी रात वो

दोनों मेरे ही घर में थे और पूरी रात दोनों ने मिल कर कम से कम 20 बार मुझको चोदा होगा। मेरी कहानी आपको कैसी लगी.. मुझे ज़रूर बताएं.. आप अपने कमेंट्स मुझे ईमेल कर सकते हैं। rajat_gupta10@yahoo.com

Give Ur Reviews Here