Home
Category
Sex Tips
Hinglish Story
English Story
Contact Us

फेल कर दूंगी एग्जाम में


दोस्तों ये कहानी आप सेक्सवासना डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

मैं एक बार फिर हाज़िर हूँ आपना एक और रियल इन्सिडेंट लेके, लड़कियाँ, भाभी, आंटी, आपनी चुत मे हाथ रख ले और लड़के आपना लॅंड निकाल ले ताकि मेरी स्टोरी पढ़ते वक़्त उन्हे रगड़ने और हिलने का आनंद पड़ीाप्त हो सके, जैसा की

आप सबको पता है मुझे मॅरीड लॅडीस को चोदना बहुत पसंद है , ये स्टोरी भी मेरे मेरी उसी पसंद मे से एक है है, ये अभी 5 महीने पहले मेरे साथ हुई, इसकी नायिका है मेरी क्लास टीचर जो ह्यूम फिज़िक्स पढ़ती तीन, उनका नाम आराधना

पांडे है, वो एक सुंदर हुसान की मल्लिका है, उनका फिगर 36 34 36 था, वो जब स्लीवलेशस सदी मे आती थी तो किसी का भी लॅंड खड़ा हो जाए, मेरा तो मन करता था की उन्हे वही पटक कर चोद दु, खैर मेरी स्टोरी इसके ठीक उल्टी है. एक बार एग्ज़ॅम

मे कम नंबर्स आने की वजह से मैने माँ की कंप्लेंट हुमारे स्कूल की पड़ीिन्सिपल से कर दी, माँ को इस बात का पता चलने पर उन्होने मुझे क्लास मे बहुत दांता और मुझे बाहर निकाल दिया, कुछ दीनो तक मैं स्कूल नही गया, और जब जाना

शुरू किया तो उनकी क्लास बंक करनी शुरू कर दी, इतना तो उन्हे भी पता था की मैं उन्हे क्लास मे सेक्सी नज़रो से देखता हूँ, जिसका अंदाज़ा उन्हे खूब था, एक दिन मैं उनकी क्लास बंक करके ही जा रहा था की मेरे बगल एक कार आकर रुकी,

मैं साइड हुवा तो कार का डरवाजा खुला, वो कार आराधना माँ की थी, उन्होने मुझे अंडर बैठने को बोला, पहले तो मैने रेफ्यूज़ किया, जैसा की मैं ईगोयिस्टिक था उसी लहज़े मे मैने जवाब दिया, माँ, अंडर बैठते हो या तुम्हारी

कंप्लेंट मैं पड़ीिन्सिपल सिर से करूँ, मैं थोडा डर गया, मैं पेछे वाली सीट मे बैठ गया, कार उनका ड्राइवर चला रहा था ,, माँ, कहा जा रहे हो क्लास बंक करके, मैं, घर जा रहा हूँ. माँ, मेरे बड़े मे पड़ीिन्सिपल से कंप्लेंट क्यू

की थी तूने, मैं, मैं इतना पढ़ता हूँ और एग्ज़ॅम इतना लिखा भी, पर आप ज़्यादा मार्क्स सिर्फ़ लड़कियो को ही दे देती है, माँ, तो मुझसे बोलता पड़ीिन्सिपल से कंप्लेंट क्यू की, मैं, मेरा मन, माँ, इतना एकड़ क्यू दिखता है तू,

क्लास का अछा स्टूडेंट है सुधार जा, मैं, मुझे नही सुधारना, माँ, मैं तेरी कंप्लेंट पड़ीिन्सिपल और घरवालो से कर दूँगी, मैं, तो कर दो ना मुझे फ़र्क नही पड़ता, गाड़ी रोकिए मुझे घर जाना है, उन्होने गाड़ी नही रुकवाई और

ड्राइवर को चलते रहाँे को बोला, मैं, आप मुझे ले कहा जा रही है, माँ, आपने घर ले जा रही हूँ, मैं, क्यू ?, माँ, तुझ पनहीशमेंट देनी है (हेस्ट हुए) मैं, पनहीश क्लास मे करना, अभी मुझे घर जाना है, माँ, (मुझे एक जोरदार थप्पड़ मरते हुए)

चुप कर, साले तेरी सारी एकड़ निकाल दूँगी समझा, मैं, थप्पड़ क्यू मारा(गुस्से मे) माँ, घर चल बताती हूँ (गुस्से से) थोड़ी देर मे हम उनके घर पहुच गये, उनका घर काफ़ी आलीशान और बड़ा था, उतरने के बाद उन्होने ड्राइवर को जाने को

बोल दिया, मैं बाहर ही खड़ा था उन्हे अंडर आने को बोला, मैं, मुझे नही आना माँ, (हाथ पकड़कर अब्डर ले गयीं और डरवाजा क्लोज़ कर दिया) (उस वक़्त उनके घर मे कोई नही था) इतनी एकड़ क्यू दिखा, रहा है, मैं, मैं ऐसा ही हूँ, मुझे जो

ओआसंद नही आता मैं उसे बात नही करता, माँ, (एक तप़ड़ मरते हुए बोला) साले पसंद नही करता तो आँखे फाड़ के मेरे चुचो प्व क्यू देखता है क्लास मैं, ये सुनकर तो मेरी सांस ही अटक गयी, माँ की आँखे वासना मे दुबई हुई दिखाई दे रही

थी. मैं मॅन ही मॅन खुद हो गया की आज तो साली को चोदने को मिलेगा ही, पर जैसा की मुझे औरत को तड़पाना बहुत पसंद है मैने भी गुस्से मे कहा, मैं, तो ऐसे कपड़ी क्यू पहाँ के आती है साली, माँ, साले ऐसे बात करेगा आपनी टीचर से

हरामी साले, मैं, मैने भू गुस्से से बोलते हुए उसको पकड़ के उठा लिया, साली कितना हरामी हूँ आज तुझे दिखता हूँ, मैने माँ को गोद मे उठाकर बेडरूम मे ले गया वो चिल्लाने का नाटक करते हुए बोली “साले उतार मुझे” मैं, मैने उसे

उतारकर दीवाल से उल्टा चिपका दिया और उसकी ब्लाउस को पेछे से फाड़ दिया, (साली बहुत एकड़ती है ना रुक आज सब एकड़ ंकलता हूँ तेरी) इतना कहते हुए मैने उसकी चुचियो को तेज़ से दबा दिया, मेरे इतने तेज़ दबाने से गुस्से से

चिल्ला उठी “उईईईईई आअहह साले बाप की जागेर समझी है क्या , साले धीरे नही दबा सकता, उ आअहह अया आअहह मररर गई,) मैने उसकी चुचियो को मसलना जारी रखा, क्या बतौन दोस्तो उसकी गोरी पिच और उसकी महक मुझे पागल बना रही थी, मैं

चुचिया मसालते हुए ुआस्को नंगी पेठ को चूमने लगा “उम्म्म उनम्म एम्म्म उम्म” वो तेज़ कजिनकारिया लेने लगी “अयाया आआहह ऑश उम्म्म राजा क्या और मसल साले उम्म्म श निकाल दे मेरी एकाद, बहुत दीनो से तुझसे डबवाने को तड़प

रही हूउ, अया उहह एम्म” मैं भी जोश मे पागल हयवा जा रहा था मैने किस करते हुए उसकी बड़ी गांड पे तेज़ से थप्पड़ मारा, “उईईइ माआ साले गांड पे थप्पड़ क्यू मार रहा, उ अया” मैने एक थप्पड़ और मरते हुए कहा” साली तेरी गांड की

वजह से ही तू इतनी उछालती है ना” अब मैने उसे सीधा करके उसको दीवाल से सता दिया और जनवरो की तरह उसकी नेक को क़िसश एर शककरने लगा. वो तो जैसे पागल ही होने लगी “अयाया रजाअ उ माआ क्या चूस रहा है उम्म्म्म अया अओर आइस ही

कार्ररर अयाया उम्म्म” अब मैने उसकी चुचियो को मसालते हुए मूह मे लेकर चूसने लगा, क्या बतौन दोस्तो क्या टाइट चुचि थी उसकी , एक हाथ मे आ ही नही रही थी, “उम्म्म उम्म्म साली इतनी बड़ी चुचो का क्या करती है उम्म्म एमेम”

मस्ती मे उसकी आँखे बेंड थी और कजिनकारी उसकी दबने लगी और वो आपने होठो को दाँत से दबाने लगी “उम्म्म आअहह तुझे दिखती हूँ उम्म्म उम्म, आ आ और चूस रजाआ उम्म्म रुक मत बहुत मज़ा आ रहा है, उम्म्म क्या चूस्ता है हाऐईयइ

आआहह” “उम्म्म साली एकड़ ढीली हो गई सारी नंगी होते ही उम्म्म” “आअहह तुझे एकड़ पसंद है ना मेरि उम्म्म उम्म्म मुझे पता चला की तुझे मेरा आटिट्यूड पसंद है उ आआहह” “हाँ साली तेरे जैसी औरते जितना एकड़ती है उतना ही नंगी

होने पर सिकुद्ती है, उम्म्म उम्म, और तू भी तो साली बाकी लड़कियो से पूछती फिरती है की क्लास का अछा लड़का कौन है ह्म उम्म्म” “आअहह और दबा रजाअ उम्म्म अया खा जा इन चुचियो को, श तुझे देखकर ही टाइट हो जाती है उम्म्म आहह,

हाँ साले पूछती हूँ, मुझे तेरी एकड़ पसंद है, आहह बाकी तो सारे सब साले नीचे सिर झुकाके बात करते है, ऑश उम्म्म बस तू ही साली नज़रे कपड़ो के अंडर डालकर बात करता है, उ आआहह उम्म्म” मैने उसकी गर्दन को किस करते हुए आपने

कपड़े उतार दिया, वो मेरे टाइट खड़े लॅंड को हटग मे लेकर, आयेज पेछे करने लगी. उम्म क्या मस्त हाथ था उस साली का ऐसा लगा जौसे अभी निकाल जाएगा मेरा “उम्म्म हाीइ क्या टाइट लॅंड है मेरे रजाअ ऑश आ साले कितनो को चोदा है आब

टककक उम्म अया उ” “उम्म्म अभी क्लास मे किसी को नही साली उम्म्म उम्म्म एम्म्म” “आह ऑश आअहह, साले मनीषा को क्यू घूरता रहता है फिर, साली के चुचे देखकर, ऑश उम्म” “हाँ साली पर तेरे से बड़े नही है उसके उम्म्म्म” मैने उसकी

सदी को थोडा उपर उठाते हुए उसकी चुचि को रगड़ने लगा और उसके होठो को आपने होठो मे भरकर चूसने लगा, बहुत मीठे और रसीले थे उसके होठ दोस्तो क्या मज़ा आ रहा था उसके होठ चूसने मे उम्म्म, वो तो पागलो से बस कजिनकारिया भर रही थी

और बड़बड़ा रही थी “अयाया राजा और मसल मेरी चुत को उम्म्म उ अया साली क्लास मे तुझे देखकर पानी चोदने लगती है अया उम्म्म ऑश” मैं नीचे घुटनो पर बैठ गया उसकी नंगी गुलाबी चुत मेरी आँखो के सामने थे मेरी जीभ उसकी मादक चुत

को देख कर ही बाहर आ गयी और मैने आपनी जीभ उसकी चुत पे रख दी “हाीइ रजाआ क्या कर रहा है अयाया ऑश उम्म्म बहुत अछा लग रहा आअहह आजतक कभी किसी ने नही छाती मेरी चुत आअहह उम्म्म खा जा रजाआ पे ले इसका रस्स उम्म्म ऑश ऑश अया” मैं

उसकी चुत के दाने को आपने अंगूठे से मसालते हुए अंडर जीभ पेलकर चूसने लगा वो पागल होने लगी और मेरे मेरे बाल पकड़कर आपनी चुत पे दबाने लगी “आअहह रजाअ आअहह ऑश उम्म्म आअहह और चूस अया बहुत मज़ा आ रहा हाीइ आअहह” अब मुझसे

रहा नही जा रहा था मैने देर ना करते हुए उसको उल्टा दीवाल से चिपका दिया और उसकी सदी को उठाकर कमर तक ला दिया (जैसा की मैं आपको पहले बता चुका हूँ की मुझे औरतो को सदी के साथ ही चोदना पसंद है” मैने उसे झुकने को कहा और उसकी

टांगको को चौड़ा कर दिया, हाइ हील्स मे वो एकद्ूम पॉर्न स्तर की हेयरोयिन लग रही थी. उसने कजिनकारी लेते हुए कहा “आहह और मत तड़पाव रजाअ पेल दो आपना लॅंड मेरी चुत मे अया” मैने आपने लॅंड को उसकी चुत पे टीक्या और एक ही

झटके मे पूरा लॅंड उसकी चुत के अंडर दल दिया, लॅंड अंडर जाते ही वो चिल्ला उठी”अया राजा धीरे दर्द होठा है ऑश अया” मैने उसके बाल खींचते हुए कहा”साली बहुत एकड़ थी ना तुझमे चुत ढीली होते ही ढीली हो गई, ले साली मेरा लॅंड

उम्म” ” अया राजा ऑश उम्म्म ढीली कर दे मेरी चुत और एकड़ को आअहह क्या मस्त लॅंड है तेरा, उहह अया आहह बहुत बाड़िया चुत मे लग रहा हाऐ” मैं उसको तेज़ रफ़्तार मे चोदने लगा और वो तेज़ी से कजिनकारिया लेने लगी पूरी कमरा

ठप्प्प ठप्प्प फूच पूछ पूछ चुत और लॅंड की आवाज़ से गुज़्ने लगा “अया उ मा मार गाइइ है राजा और्र पेल मेरी चुत को आ ऑश उम्म्म्म अया” मैने उसे उठाकर बेड पर लिटा दिया और उसकी टॅंगो को कंधे पर रखकर उसकी चुत मे लॅंड पेलने

लगा “आअहह रजाअ और चोद अया उ पहले कभी ऐसे नही चुदी अया उम्म्म अया हाइईइ ऑश” मैं उसी तेज़ी से चोद रहा था बेड हुमारी चुदाई से हिलकर आवाज़ करने लगा माँ मस्ती मे चदडार को नोचने लगी, “हाीइ उम्म्म अया ओराजाअ आहह, साले अब

मेरी एकड़ और बाद गयी है, ऑश उ अब तुझहहे मैं फैल कर दूँगी हाईईइ ऑश” मुझे गुस्सा आया मैने लॅंड निकाल के उसकी सुखी गांड पे पेल दिया वो अचानक हुए इस हमले से तिलमिला और चिल्ला उठी “अया मारररर गैइइ हाीइ साले कुत्ते हरामी

की औलाद, गांड मे क्यू लंडा पेला हाईईइ अया निकाल बहुत दर्द हो रहा उम्म्म” दोस्तो उसकी अनचुद़ी गांड बहुत टाइट थी मैने फिर एक जोरदार झटका लगाया और पूरा लॅंड उसकी गांड मे पेल दिया, वो दर्द से तड़पने लगी “हाइईइ उ मा

मॅर गैइइ, आ रजाअ निकाल्ल्ल लो लॅंड उ एम्म अया” मैने धीरे ढेरे धक्के लगते हुए बोला “एम्म साली फैल करेगी ह्म ले साली तेरी गांड फाड़ दूँगा आज उम्म्म” धीरे धक्को के साथ उसका दर्द कम होने लगा और उसे मज़ा आने लगा “अया उ

हाँ साले फैल करूँगी ताकि तू इसी क्लास मे रहकर मेरी चुदाई करे, अया ऑश उम्म्म हाइी राजा” मैने धक्को की स्पेड बढ़ा दी वो भी अब गांड उछाल उछाल के छुड़ाने लगी “अया राजाअ बहुत मज़ा दिया तूने मुझे ऊहह आअहह अब तू मुझे जब

मन करे चोदड़ सकता हाई अया उहह ह्म” 5 मीं और चोदने के बाद मेरा बनी उसकी गांड मे ही निकाल गया और मैं उसके बगल बिस्तर मे लेट गया, वो खुश होते हुए मुझे किस करने लगी “बहुत अछी चुदाई की तूने मेरी, अब तुझे पड़ीिन्सिपल के पास

जाने की ज़रूरत नही जितना तू मुझे चोदेगा मैं उतना ही मार्क्स तुझे दूँगी ” इतना बोलते हुए मुझे वो किसा करने लगी, थोड़ी देर बाद उसके ड्राइवर ने मुझे घर तक ड्रॉप कर , इसके बाद मैने उसे कई बार चोदा.
दोस्तों आज की एक और नई सेक्स कहानी पड़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।
Notice For Our Readers

दोस्तो डाउनलोड क्र्रे हमारा अफीशियल आंड्राय्ड अप (App) ओर अनद लीजिए सेक्स वासना कहानियो का . हमारी अप(App) क्म डेटा खाती है और जल्दी लोड होती है 2जी नेट मे वी ..अप(App) को आप अपने फोन मे ओपन रख सकते है

अप(App) का डिज़ाइन आपकी प्राइवसी देखते हुए ब्नाई गयइ है.. अप(App) का अपना खुद का पासवर्ड लॉक है जिसे आप अपने हिसाब से सेट कर सकते ह .जिसे दूसरा कोई ओर अप(App) न्ही ओपन क्र सकता है और ह्र्मारी अप(App) का नाम sxv शो होगा आफ्टर इनस्टॉल आपकी गॅलरी मे .

तो डाउनलोड करे Aur अपना पासवर्ड सेट क्रे aur एंजाय क्रे हॉट सेक्स कहानियो का ...
डाउनलोड करने क लिए यहा क्लिक क्रे --->> Download Now Sexvasna App

हमारी अप कोई व किसी भी तारह के नोटिफिकेशन आपके स्क्रीन पर सेंड न्ही करती .तो बिना सोचे डाउनलोड kre और अपने दोस्तो मे भी शायर करे

   Please For Vote This Story
3
0