घर का गन्ना 1


Author :बॉबी Update On: 2016-05-12 Views: 8676

हेलो दोस्तो, नमस्कार मैं बॉबी बिहार के एक छोटी सी जगह में रहता हूँ.. मैं सेक्सवासना का रेग्युलर विज़िटर हूँ.. .. .. .. सेक्सवासना की कहानियों में एक तथ्य होता है.. कामुकता के साथ साथ रोमांच और सबसे बड़ी बात

सेक्सवासना पर एक सेक्स स्टोरी होती है.. लेकिन मेरी कामिनी जी से एक शिकायत है, वो भाई बहन की ज़्यादा कहानियाँ प्रकाशित नहीं करती.. आप लोगों को बता दूं की बाय्फ्रेंड – गर्लफ्रेंड या पति – पत्नी की चुदाई से

ज़्यादा, पत्नी की गैर मर्द से चुदाई या घर में चाची – भतीजा, मामा – भांजी और सबसे ज़्यादा भाई – बहन चुदाई होती है.. मस्त कहानियाँ हैं, सेक्सवासना डॉट कॉम पर !!! !! देखिए दोस्तो, अगर आपमें से एक ही भाई ये कह दे की भले ही

बहन सग़ी हो या कज़िन, आपने कभी उसकी पैंटी या ब्रा सुखते नहीं देखी या कभी उसकी क्लीवेज नहीं देखी और उसका लंड अपनी बहन के लिए एक बार भी खड़ा नहीं हुआ तो मैं अपनी अगली कहानी नहीं लिखूंगा.. असल में बाहर निकलने से पहले

हम अपनी घर की औरतों के बारे में ही सोच के बड़े होते हैं.. और सबसे बड़ी बात अपने सगे या कजिन भाई से चुदाई सबसे सेफ चुदाई है.. ना कोई डर ना ख़तरा.. तो दोस्तो अब मैं अपना कहानी शुरू करने जा रहा हूँ.. ये ना तो कोई काल्पनिक

कहानी है ना पूरी तरह से सेक्स की चासनी भर है.. बस कामिनी जी से विनती है की कहानी में किसी भी तरह का कोई परिवर्तन ना करें और इसे जल्द से जल्द प्रकाशित करें.. तो दोस्तो, ज़िंदगी जब चलती है, दिन जब गुज़रता है तो उसमे

सेक्स चाहे ना चाहे कहीं ना कहीं आ ही जाता है.. ये हमारे ज़िंदगी के लिए इतना अहम है.. ये सबको पता है. जैसा मैंने बताया सेक्स आज कल गर्लफ्रेंड या बीबी के साथ होता है.. गर्लफ्रेंड की फ्रेंड के साथ होता है.. रंडी के साथ भी

होता है पर अब बहन के साथ भी कामन हो गया है.. एक पॉर्न साइट पर छपने वाले “डेली डोस” के अनुसार भाई – बहन के चुदाई के रिश्ते सबसे ज़्यादा एशिया पेसिफिक में होते हैं यानी हिन्दुस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश वगेरह और

सबसे ज़्यादा रेशियो उसमें इंडिया का है.. ये उन लोगों का भ्रम दूर कर देगा, जो विदेशियों को लीचड़ समझते हैं.. अब बात निकली है तो बता दूं दुनिया में सबसे कम उम्र में भारत की लड़कियाँ अपनी झिल्ली फटव लेती है.. यहाँ ये

उम्र सिर्फ़ 15 है जबकि अमेरिका जैसे देश में ये उम्र 17 है.. अगला फैक्ट तो और भी मज़ेदार है, हिन्दुस्तान में जो भी लड़की सर्वे में शामिल हुई होगी वो शादी के टाइम पर कुँवारी यानी वर्जिन नहीं थी.. यानी 0 % .. 100 की सीधी बात

ये है की वो दिन लद गये जब भारतीय लड़कियों की इमेज दुनिया में शर्मीली, पतिव्रता और ऐसी ही कुछ मानी जाती थी.. आज हमारे देश की लड़कियाँ भी छिछोरपने में किसी से पीछे नहीं हैं बल्कि कहना चाहिए सबसे आगे हैं.. (ये कहानी और

इसके शब्द लेखक की निजी राय है..) तो दोस्तो, मैं बिहार के एक भूमिहार कास्ट से बिलोग करता हूँ.. मेरे दोस्त मुझसे कहते है की भूमिहार कास्ट “ब्राम्हण मर्द” और “शत्रिय औरत” के संबंध का नतीजा है.. मैंने भी कभी दोस्तो की

बात का बुरा नहीं माना.. सोचा सही भी हो सकता है और ग़लत भी.. खैर .. तो दोस्तो, मेरे परिवार मे 6 लोग है.. मम्मी पापा के अलावा, मेरे 1 भाई और 2 बहन है.. भैया मुझसे काफ़ी बड़े है.. बहन भी एक मुझसे छोटी है और एक बड़ी है.. मैं 25 का

हूँ, दीदी 29 की, भैया 33 के होंगे और छोटी 23 की.. .. .. .. ये है मेरा परिवार.. किसी की शादी नहीं हुई है, अभी.. अगर आप लोग को पता होगा तो जानते होंगे भूमिहार लोग काफ़ी लंबे होते है.. मेरी दोनों बहन भी 5.7 के अराउंड थी और फिगर क्या

कहूँ यार.. पहले मैं कभी ध्यान नहीं देता था.. सिर्फ़ अपनी पढ़ाई करता था.. पर एक बात मुझे हमेशा ख़टकती थी की दीदी की अभी तक शादी क्यों नहीं हो रही है.. .. ऐसा नहीं था की मेरी दीदी ही कुंवारी थी बस.. मेरे मुहल्ले मे सारी

लड़की ऐसी ही थी.. 30-32 के बाद ही शादी होती थी और लड़की के लिए ये काफ़ी ज़्यादा उम्र हो जाती है.. जो लड़की 14 15 मे जवान हो जाती है और 32 मे शादी तो मतलब 18 साल दूध पी के तो जवानी नहीं गुज़री ना.. कहीं ना कहीं, किसी ने किसी से

चुदती ही होगी.. ये तो यूनिवर्सल ट्रूथ है, किसी को कोई संदेह नहीं होगा इसमे.. मैं कभी अकेले मे सोचता था – यार, मुझसे सेक्स के बिना नहीं रहा जाता तो दीदी कैसे रहती होगी.. छोटी को मैं इग्नोर करता था की चलो, अभी 23 की ही है

पर दी तो 30 को होने जा रही है.. मेरे मम्मी पापा को भी ज़्यादा परेशानी नहीं था की बेटी की शादी करनी है. अगर मेरी दीदी की बात की जाए तो वो एकदम से अभिनेत्री की तरह लगती थी.. थोड़ी हेवी थी मतलब 58 वेट था उनका.. .. .. .. अब ब्रा

पैंटी देखना तो कामन है जब एक ही घर मे रहते हो तो.. मैंने देखा था.. .. .. .. उनकी साइज़ ब्रा की 80 था और पैंटी शायद 85 सेंटीमीटर की थी.. .. .. .. वो बताया ना काफ़ी भारी थी तो सारा मैदान उसका बड़ा बड़ा था.. काफ़ी हंसमुख मिज़ाज़ की

थी ही मेरी आयशा दीदी सबसे मज़ाक करना हमेशा हंसते रहना आदत थी उनकी.. .. ज़्यादातर वो सलवार सूट मे रहती थी.. कई बार क्लीवेज भी देखा मैंने.. आधा नंगा देखा, नहाते हुए.. .. पोछा लगते हुए.. .. कपड़े चेंज करते हुए.. सब मे देखा था

मैंने उसे.. .. आज बस दीदी की बात करूँगा.. छोटी की बात फिर कभी क्योंकी एक स्टोरी मे उतना आएगा नहीं ना सो.. कहीं ना कहीं वो सीधी नहीं थी मुझे ये लगने लगा था.. हमेशा गाना गाते हुए सेक्सी स्माइल देना इधर उधर दौड़ना

.. कपड़ो का कोई ख्याल नहीं रखना.. कई बार मेरे साथ मस्ती मज़ाक करते हुए या खेलते हुए मैंने उसके बूब्स पे हाथ रख दिया था.. काफ़ी देर तक वहाँ हाथ रहा पर दीदी को कोई प्राब्लम नहीं था.. वो कभी कुछ नहीं बोली.. कहानी जारी

रहेगी…

Give Ur Reviews Here