Dost Ne Gand Chodkar Maza Diya

('')


Author :विक्की Update On: 2016-06-01 Views: 5424

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम विक्की है और मेरी लम्बाई 5.8 है और में दिखने में भी बहुत सुन्दर दिखाई देता हूँ। दोस्तों मेरा एक बहुत ख़ास दोस्त है उसका नाम जॉली है। हम बहुत सालों से अच्छे दोस्त है और हम दोनों बीच में कभी भी

कोई छुपी हुई बात नहीं होती थी और हम दोनों ज़्यादातर वक़्त साथ ही होते है। दोस्तों आज में अपने दोस्त के साथ घटित अपनी एक सच्ची कहानी बताने जा रहा हूँ। दोस्तों यह कहानी उस वक़्त की है जब हम दोनों कॉलेज में थे। एक

बार हमने एक हिल-स्टेशन घूमने जाने का प्लान बनाया, लेकिन हमारा कोई भी दोस्त हमारे साथ वहां पर जाने के लिए तैयार नहीं था तो इसलिए फिर हम दोनों ही वहां पर चले गये। दोस्तों हिल-स्टेशन का मौसम बहुत ही सुहाना था और हमे

भी वहां पर जाने के बाद पता चला कि वहां पर हल्की-हल्की बारिश और पूरे दिन कोहरा रहता है। दोस्तों हम दोनों दारू पीने के बहुत शौक़ीन थे इसलिए हमे ऐसे सुहाने मौसम में और भी ज़्यादा मज़ा आ रहा था। हम वहां पर सुबह के समय

पहुंच गये थे और फिर हम थोड़ा आराम करने के बाद घूमने बाहर निकल गए। हम वहां पर हमारे एक दोस्त की कार से गये थे जिसको पूरे रास्ते मैंने ही चलाया था। अब थोड़ा बाहर घूमने के बाद हम मार्केट में आ गये और हमने थोड़ी शॉपिंग

भी की और फिर हमने दारू ली और अपने रूम की तरफ निकल पड़े। अब अपने रूम पर पहुंचते ही हमने कपड़े बदल लिए और हम दोनों केफ्री और टी-शर्ट में आ गये। फिर कपड़े बदलने के बाद हमने दारू पीने की बात सोची, लेकिन तभी मुझे याद आया कि

हमारी दारू की बॉटल तो कार में रह गई थी और उस समय बाहर बहुत जोर से बारिश हो रही थी और मुझे अब पानी में नहीं भीगना था। फिर जॉली ने मुझसे कहा कि वो अब बाहर जाकर दोबारा नहीं भीगेगा और बाहर बॉटल लेने मुझे ही जाना पड़ेगा,

लेकिन मैंने भी उसकी बात सुनकर उससे साफ मना कर दिया। फिर हमने एक सिक्का उछालकर टॉस किया और उसमें वो हार गया और अब जॉली बॉटल लेने जाएगा। फिर बाहर ज्यादा बारिश की वजह से उसने सोचा कि में दौड़कर चला जाऊँ और वापस आ

जाऊँ। दोस्तों हमारा रूम नीचे की मंजिल पर ही था, लेकिन रूम और पार्किंग के बीच एक गार्डन जैसा बना हुआ था, जिसकी देखभाल बहुत अच्छी तरह से की गई थी और वो उसी गार्डन में से दौड़कर जाने वाला था और उसी गार्डन के अंदर की

होटल वालों ने एक छोटा सा स्विमिंग पूल बना रखा था। फिर जॉली रूम से निकलकर बहुत तेजी से कार की तरफ भागा, लेकिन बाहर जोर की बारिश हो रही थी और बारिश की वजह से गार्डन में गीला हो गया था, क्योंकि वो ऑफ-सीज़न थी और होटल में

हमारे अलावा वहां एक और कपल था। फिर गीला होने के कारण जॉली अचानक से फिसल गया और में यह सब रूम के पास खड़ा होकर देख रहा था। फिर जॉली को फिसलते देख में बहुत जोर से हंसने लगा और मुझे हंसते हुए देख जॉली की जल गई और वो नाटक

करने लगा कि उससे अब उठा नहीं जा रहा है। उसका नाटक कुछ देर चला तो मुझे लगा कि शायद उसे सच में चोट लगी है तो में दौड़कर उसके पास पहुंच गया और अब हम दोनों पूरे भीग चुके थे और जैसे ही में उसके पास पहुंचा तो उसने मेरा पैर

खींच लिया और में भी नीचे गिर गया और नीचे गिरते ही मुझे थोड़ा गुस्सा आ गया और में उससे बदला लेने के लिए उसके साथ मस्ती करने लगा। अब हम दोनों पूरे भीगे हुए एक दूसरे के साथ मस्ती कर रहे थे और उसका भीगा हुआ बदन मुझे छू

रहा था और मुझे एक अजीब सा मज़ा आ रहा था और हम मस्ती करते हुए पास के स्विमिंग पूल में गिर गये और हम दोनों अभी भी एक दूसरे के साथ मस्ती कर रहे थे। फिर मस्ती करते हुए अचानक मेरा एक हाथ उसके लंड पर आ गया और मैंने महसूस

किया कि उसका लंड अब टाईट हो चुका था और अब मैंने जानबूझ कर उसे छुआ, लेकिन जॉली ने उसे अनदेखा कर दिया और मस्ती करते करते अचानक से हमारे होंठ एक दूसरे के होंठो को छू गये, जिसकी वजह से हम दोनों शरमा गये और फिर एकदम से

शांत हो गये। फिर उसने मुझसे सॉरी बोला और मैंने भी उससे सॉरी कहा और फिर तुरंत उसने मुझसे पूछा कि क्यों विक्की तुझे कैसा लगा? अब मैंने उससे कहा कि बहुत अच्छा लगा। दोस्तों मुझे नहीं मालूम कि मैंने उस समय उससे ऐसा

क्यों कहा? क्योंकि में एक लड़का हूँ और मुझे अपनी उम्र से बड़ी औरतों के साथ सेक्स करना बहुत पसंद है और में हमेशा ऐसी प्यासी औरतों को बहुत जमकर चोदता हूँ। फिर मेरे हाँ बोलने पर उसके चेहरे पर एक अजीब सी हंसी आ गई और वो

मेरे थोड़ा और भी नज़दीक आ गया और जैसे ही वो नज़दीक आया तो हम एक दूसरे को होंठो पर किस करने लगे और हम दोनों बिल्कुल ही यह बात भूल गए कि हम उस समय होटल के स्विमिंग पूल में खुले में किस कर रहे है और करीब दो मिनट तक हमने

एक दूसरे के होंठो को चूसा और फिर अचानक हम अलग हो गये और अब उसने मुझसे कहा कि चल रूम में चलते है। दोस्तों यह मेरी उस समय पहली किसी लड़के को किस थी, लेकिन मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और जॉली की भी यह पहला किस था और रूम में

पहुंचते ही उसने तुरंत दरवाज़ा अंदर से बंद कर दिया और वो मुझे दिवार से चिपकाकर मेरे होंठो को चूसने लगा और में भी अब उसका पूरा साथ दे रहा था और पूरे रूम में उम्म्म सुर्रप्प ऐसी आवाज़ आ रही थी और करीब पांच मिनट के बाद

हम अलग हुए और मैंने उससे कहा कि मुझे अब तेरी जीभ चूसनी है तो उसने तुरंत अपनी जीभ को बाहर निकाला जिसे मैंने अपने होंठो के बीच में ले लिया और फिर चूसने लगा। अब हम दोनों फ्रेंच किस कर रहे थे जिसकी वजह से उम्म्म्म

सुर्रप्प्प्प सुउउर्र् ऐसी आवाज़ आ रही थी और किस के बीच में मैंने उससे कहा कि तेरा थूक बड़ा स्वादिष्ट है प्लीज मुझे पीना है और अब में अपनी जीभ को बाहर निकालकर खड़ा रहा और उसने मेरे मुहं में थूक दिया और में उसका सारा

थूक निगल गया और हमारे कपड़े गीले होने की वजह से हम से चिपक गये थे। हम अभी भी एक दूसरे का मुहं चाट रहे थे। दोस्तों ऐसा तो मैंने अभी तक किसी लड़की के साथ भी नहीं किया था। फिर हमने एक दूसरे का पूरा मुहं चाट लिया था। अब

हम थोड़े अलग हुए और उसने मुझसे बोला कि आज तू मेरी बीवी बन जा और मैंने भी हाँ में अपना सर हिलाया और उससे कहा कि तू सिर्फ़ अंडरवियर में बेड पर बैठ जा में भी आता हूँ और में अपना टावल लेकर बाथरूम में चला गया। दोस्तों

मैंने अपना टावल अपने आपको सूखाने के लिए नहीं लिया था। फिर मैंने अपने सारे कपड़े उतारे और टावल को जैसे लड़कियाँ अपने ऊपर बाँधती ही वैसे ही बाँध दिया, क्योंकि मेरी छाती आकार में बहुत अच्छी है तो टावल बाँधने के बाद

बूब्स जैसा बन रहा था। अब में जैसे ही बाथरूम से बाहर पहुँचा तो मुझ देखकर जॉली बोला कि साले तू तो मेरी गर्लफ्रेंड से भी ज़्यादा सेक्सी माल लग रहा है। फिर में भी अब उसके मुहं से यह बात सुनकर मन ही मन बहुत खुश हो गया और

में उसके पास चला गया तो उसने मुझे बेड पर खींच लिया और में बेड पर गिर गया। अब जॉली मेरे साईड में और मेरे मुहं के पास उसका मुहं था और उसका और मेरा चेहरा एकदम नज़दीक था। फिर वो अपना चेहरा मेरी तरफ लाया और मुझे किस करने

लगा और अब में भी बहुत उत्तेजित हो गया था इसलिए में भी अपना चेहरा उसकी तरफ ले गया, लेकिन उसने मस्ती से अपना चेहरा थोड़ा ऊपर कर दिया मुझे तड़पाने के लिए और मैंने एक दो बार कोशिश की, लेकिन वो अपना चेहरा ऊपर ही करके रहा।

फिर मैंने भी उसकी गर्दन से उसको खींचा और मैंने अपनी जीभ से उसके होंठो को चाट लिया। हमारे बीच एक किस हुई, लेकिन अभी भी वो अपना सर ऊपर ले जाने की कोशिश कर रहा था, लेकिन फिर वो भी अब मस्ती छोड़कर जोश में आ गया और मुझे किस

करने लगा और किस करते समय उम्म्म्म सुर्रप्प्प्प ओहह्ह्ह जॉली उम्म्म्मम ऐसी आवाज़े आ रही थी। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है। अब वो मुझसे बोला कि में तुझे चोदूंगा, लेकिन मैंने हाँ कहने से पहले एक

शर्त रखी कि सबसे पहले में एक बार उसकी गांड चाटना चाहता हूँ। फिर वो मेरी यह बात सुनकर तुरंत तैयार हो गया और अब मैंने उसका अंडरवियर उतार दिया और उसे बेड पर सीधा लेटा दिया। में अब उसके दोनों पैरों के बीच में बैठ गया

और उसके दोनों पैरों को अपने कंधे पर रख दिया और अब में उसकी गांड के पास पहुंच गया उसकी गांड एकदम साफ थी और उसकी गांड के छेद को सबसे पहले मैंने अपने होंठो से किस किया जिसकी वजह से उसके और मेरे पूरे शरीर में एक अजीब सा

करंट दौड़ गया और अब में अपने सबसे अच्छे दोस्त की गांड को चाट रहा हूँ यह सोचते ही में बिल्कुल पागल सा हो गया और अब मैंने धीरे से अपनी जीभ को उसकी गांड के छेद पर लगाई और चाटा वो तो जैसे बिल्कुल पागल ही हो गया। फिर

मैंने अपनी जीभ से उसकी गांड को चाटना शुरू कर दिया था और वो तो बहुत खुश हो रहा था। अब में अपनी जीभ को थोड़ी टाईट करके उसकी गांड के छेद में डालने लगा और साथ में चाट भी रहा था। थूक की वजह से सुर्र्रप्प उम्म्म सुरर्र ऐसी

आवाजे आ रही थी और फिर जॉली मुझसे बोल रहा था कि हाँ चूस और जोर से मेरी गांड, विक्की चाट ले अपने दोस्त की गांड जैसे तूने पिछली बार मेरी माँ की गांड चाटी थी आहह उह्ह्हह्ह। दोस्तों अब में उसके मुहं से यह बात सुनकर बहुत

हैरान रह गया कि उसे यह सब कैसे पता चला? तभी उसने मुझसे कहा कि मुझे पता है कि तू मेरी माँ को भी चोदता है और अब तू उसे भूल जा और मुझे चाट। दोस्त मैंने उसकी माँ को बहुत बार चोदा था, लेकिन वो वाला किस्सा में अगली बार जरुर

बताऊंगा। में तो अब और भी जोश में आ गया में और ज़ोर से चाटने और उसकी गांड को अपनी जीभ से चोदने लगा, वो भी थोड़ा खड़ा हुआ और मेरा टावल जो अभी भी बँधा हुआ था उसने उसे खींच लिया और में अब पूरा नंगा उसके पैर को उठाए हुए

उसकी गांड को चाट रहा था। फिर उसने मुझसे कहा कि चल 69 करते है और में जैसे ही खड़ा हुआ उसने मेरा मुहं खींचा और होंठो से चूस लिया, क्योंकि गांड चाटते वक़्त मेरा थूक मेरे होंठो के आस पास भी था जो उसने अपनी जीभ से चाट लिया

सुऊर्रप्प्प आवाज़ आ रही थी और अब हम 69 पोज़िशन में आ गए। उसने मेरा लंड मुहं में ले लिया और मैंने भी उसका लंड अपने मुहं में डाल दिया। हमारे लंड करीब एक ही आकार के थे, लेकिन उसका थोड़ा गोरा था और उसका लंड मुहं में लेते

ही मेरा पूरा शरीर झनझाना गया और थूक निकालकर हमने एक दूसरे का लंड बहुत देर तक चूसा। फिर उसने मेरी गांड को भी बहुत थूक लगाकर चाटा। अब उसने मुझे बोला कि वो मुझे चोदना चाहता है और अब उसने मुझे डॉगी पोज़िशन में आने के

लिए कहा तो में डॉगी बनकर बैठ गया और मेरा सबसे अच्छा दोस्त मुझे चोदने के लिए आ गया। उसने अपना लंड मेरी गांड के छेद पर रख दिया और एक ज़ोर से धक्का मारा जिसकी वजह से मेरी चीख निकल गई। उसने मेरा मुहं घुमाकर मेरे होंठो

पर अपने होंठ रख दिए और अपनी जीभ को उसने मेरे मुहं में डाल दिया और उसने मुझे किस करते हुये दूसरा ज़ोर का धक्का दे मारा और अब उसका पूरा लंड मेरी गांड में था और हमारी किस अभी भी लगातार चालू थी। दोस्तों आप भी थोड़ा सा

सोचकर देखो कि आपकी गांड में आपके सबसे अच्छे दोस्त का लंड हो तो आपको कैसा लगेगा? दोस्तों अब में अपना दर्द भूल गया था और मुझे बहुत मज़ा आ रहा था। उसने झटके लगाने चालू कर दिए थे और थोड़ी देर बाद हमने पोज़िशन बदली और वो

बेड पर सीधा लेट गया और उसने मुझे अपने लंड पर बैठा दिया। में भी मज़े लेकर धीरे धीरे नीचे होता रहा था जिससे उसका लंड मेरी गांड के आखरी कोने में पहुंच जाए। में बीच बीच में उसके होंठो का और लंड का भी मज़ा ले रहा था। फिर

उसी पोज़िशन में वो थोड़ा खड़ा हुआ और हम एक दूसरे से चिपके हुए थे और झटके अभी भी चल रहे थे और होंठ चूसना भी चालू था और फिर थोड़ी देर बाद उसने अपने लंड को बाहर निकाल लिया और मुझे बेड पर सीधा सोने को कहा। अब में समझ गया

कि वो क्या करना चाहता है? और में लेट गया। अब उसने मेरे पैर मेरी जांघ से थोड़े ऊपर उठाए और अपना लंड मेरी गांड में डाल दिया। फिर दो धक्को में उसका पूरा लंड मेरी गांड में आ गया और अब वो मुझसे बिल्कुल चिपककर सो गया। उसके

हाथ मेरे लंड से होते हुए मेरे सिर के पीछे जा रहे थे और मेरे हाथ उसकी कमर और गांड के पास थे जहाँ से में उसे खींच रहा था ताकि उसका पूरा लंड मेरी गांड में आ जाए। दोस्तों में अब भी यही बात सोच रहा था कि मेरा सबसे ख़ास

दोस्त आज मुझे चोद रहा है और साथ में होंठो को चूसना और जीभ से लड़ाई के साथ साथ थूक की अदला बदली भी चल रही थी और जब वो मुझे लगातार ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोद रहा था तब उसके आंड मेरे मुहं के पास आ रहे थे। अब मुझसे भी रहा

नहीं गया तो मैंने उसे अपनी जीभ को बाहर निकालकर चूस लिया, वो तो जैसे पागल हो गया और मुझे और जोर से धक्के देकर चोदने लगा। जब जॉली का वीर्य निकलने वाला था तो वो मुझसे बोला कि विक्की में अब झड़ने वाला हूँ और तू अब जल्दी

से बता में कहाँ निकालूं? फिर मैंने तुरंत उससे कहा कि तू आज अपने दोस्त की गांड को अपने वीर्य से पूरा भर दे और अंदर ही झड़ जा। दोस्तों कुछ झटकों के बाद वो मेरी गांड में ही झड़ गया, अयाआआअहह में गया विक्की, फिर मैंने

कहा कि हाँ छोड़ दे जॉली, आज चोद डाल अपने दोस्त को, डाल दे सारा माल मेरी गांड में और वो आह्ह्हहह उह्ह्हह्ह्ह्ह करके मेरी गांड में झड़ गया, उसके लंड ने मेरी गांड में इतनी ज़ोर से पिचकारी छोड़ी कि मेरी गांड उसके वीर्य से

भर गई और वो अब मुझ पर गिर गया और हमने करीब दो मिनट तक एक दूसरे का मुहं चाटा। फिर वो खड़ा हुआ और मेरी गांड में अपनी जीभ को डालकर उसमें से थोड़ा उसका वीर्य जो उसने अभी अभी निकाला था उसे चूसने लगा और फिर पास की टेबल पर

पड़ी एक छोटी सी प्लेट में थूक दिया। फिर मैंने उससे पूछा कि यह क्या कर रहा है यह सब छोड़ और मेरा लंड चूस दे, मुझे भी अब तेरे मुहं में झड़ना है। फिर उसने मुझसे कहा कि में जब तुझसे कहूँ तब तू इस प्लेट में से यह पूरा थूक और

वीर्य चाट लेना और अपने मुहं में ही रखना। दोस्तों में भी अब बहुत खुश हो गया और मैंने उससे हाँ बोल दिया। दोस्तों आज हमने सभी हदे पार कर दी थी। फिर उसने मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया, क्योंकि में पहले से ही अपनी चुदाई की

वजह से बहुत उत्तेजित था इसलिए में थोड़ी देर के बाद उसके मुहं में झड़ गया आअहह में गया जॉली तेरे मुहं में आआआआहह मेरी भी इतनी जोर से पिचकारी निकली कि मेरा सारा वीर्य भरकर जॉली के मुहं से बाहर आ गया। दोस्तों उसने

मेरा सर अभी मुहं में ही दबाकर रखा और इशारे से मुझे प्लेट में रखा हुए उसका थूक और मेरी गांड से निकाला हुआ उसका वीर्य चाटने को कहा। फिर मैंने भी तुरंत प्लेट पर जीभ से सारा वीर्य चूस लिया और अपने मुहं में रखा। जैसे ही

मैंने अपने मुहं में सारा माल लिया तो उसने मेरे पास आकर मेरे होंठो से उसके होंठ जोड़ दिए और किस करते करते जैसे हमने मुहं खोला तो मेरा वीर्य और उसका वीर्य जो मेरी गांड से निकाला था और हमारा थूक एक दूसरे के मुहं में आ

गया और वो सब मिल गया था और हमारे मुहं अभी भी जुड़े हुए थे। जिसकी वजह से थोड़ा माल हमारे होंठो से बाहर आ रहा था और पूरा माल अंदर एक दूसरे के मुहं में घूम रहा था। फिर हमने होंठ अलग किए और जिसके हिस्से में जो माल आया वो

निगल गये। दोस्तों मेरे हिस्से में थोड़ा ज़्यादा माल आया था, मुझे बहुत मज़ा आ गया। अब हम इतने थक गये कि बता नहीं सकते। उस समय रात के चार बज गये थे और हम नंगे एक दूसरे को चिपककर सोते ही रहे। फिर 15 मिनट के बाद हम दोनों

पानी पीने के लिए उठे, क्योंकि हमने एक दूसरे का इतना थूक पिया था कि दोनों के गले सूख गये थे। फिर पानी भी हमने ठीक वैसे ही पिया पहले उसने थोड़

Give Ur Reviews Here