बूढ़ा चौकीदार और मेरी चुदासी बीवी


Author :रमन Update On: 2016-08-27 Views: 21354

हैल्लो दोस्तों, इस स्टोरी में एक बूड़ा चौकीदार जो हमारे घर के सामने बैठता है वो मेरी बीवी को अपना प्यार जताता है और मेरी बीवी उसे प्यार का इनाम देती है। दोस्तों हम दोनों बहुत गंदे है और हमें सेक्स में कुछ नया करना

बहुत पसंद है। हमारे घर के सामने ही कॉलोनी का दरवाजा था, जहाँ पर एक बूड़ा चौकीदार बैठता था, वो रोज रात को आता था, वो करीब 60 साल का होगा और हमें उस पर पूरा भरोसा था। एक बार मेरा बाहर जाने का 2 दिन के लिए प्लान बन गया। तो

मैंने उससे बोला कि वो रात को हमारे घर के सामने ही रुके और ध्यान रखे, क्योंकि मेरी बीवी अकेली होगी। वो मान गया और मेरे जाने के बाद वो रात को 10 बजे मेरे घर के सामने ही बैठ गया। फिर रात को मेरी बीवी ने उसको चाय दी और

खाना भी दे दिया, तो उसने कहा कि थैंक यू मेडम आपने मुझे खाना दिया। फिर मेरी बीवी ने कहा कि कोई बात नहीं आप भी तो यहाँ पर हो, फिर उसने कहा कि एक बात बोलूं अगर आप बुरा ना मानो तो आप बहुत ही सुंदर हो बिल्कुल किसी हिरोइन की

तरह, साहब की किस्मत बहुत अच्छी है। फिर मेरी बीवी ने कहा कि थैंक यू, लेकिन उन्हें कौन समझाएगा? तो उसने कहा कि सॉरी मेडम, लेकिन अगर ऐसी बात है तो वो बेवकूफ है। फिर मेरी बीवी ने कहा कि थैंक यू अगर मुझे डर लगेगा तो में

आपको अंदर सोने के लिए बुला लूँगी, मेरी तारीफ़ करने के लिए थैंक यू, मुझे अच्छा लगा। फिर उसने कहा कि जी मेडम, लेकिन सब सच ही है। फिर मेरी बीवी मुस्कुराकर अंदर चली गयी। अब वो बूड़ा बाहर बैठा हुआ था, फिर कुछ देर में मेरी

बीवी ने उसको अंदर आने को बोला क्योंकि उसे डर लग रहा था, तो वो अंदर आ गया। अब मेरी बीवी ने नाइटी पहनी हुई थी, जो उसके घुटनों से ऊपर थी। फिर उसने कहा कि मेडम मुझे नहीं पता था कि आप और भी ज्यादा खूबसूरत हो सकते हो, आप तो

एकदम परी लग रही हो। फिर मेरी बीवी ने कहा कि हाँ करते रहो तारीफ़, लगता है तुम्हें बदले में कुछ चाहिए, तो उसने कहा कि नहीं मेडम में सच बोल रहा हूँ मुझे कुछ नहीं चाहिए। फिर मेरी बीवी ने कहा कि पक्का कुछ नहीं चाहिए, तो

उसने कहा कि अगर आप इतना पूछ रही हो तो बस मेरे लिए एक बार घूम जाओं, मुझे आपको बस देखना है। फिर मेरी बीवी उसके लिए घूम गयी और बोली कि चलो किसी ने तो मुझे देखने के लिए बोला, मेरे पति तो मुझे देखते भी नहीं है। फिर उसने कहा

कि मेडम वो पागल है, आपको कौन नहीं देखना चाहेगा? तो मेरी बीवी इस बात पर हंस पड़ी और वो दोनों बातें करने लगे। अब बातें करते-करते पता लगा कि वो अकेला था और उसका कोई भी नहीं था। फिर मेरी बीवी यह सुनकर बोली कि में हूँ ना

आपके लिए, तो चौकीदार मुस्कुरा दिया और बोला कि मेडम मुझे यकीन हो गया है कि आप मेरे साथ हर चीज़ में हो। फिर मेरी बीवी ने कहा कि हाँ अपने आपको कभी अकेला मत समझना, में मदद करूँगी। फिर उसने कहा कि थैंक यू मेडम, क्या में

आपको एक बात बोल सकता हूँ? प्लीज़ बुरा नहीं मानना, तो मेरी बीवी ने कहा कि हाँ कोई बात नहीं बताओ, तो उसने कहा कि में जानता हूँ कि में बूड़ा हूँ और गरीब हूँ, लेकिन जब से मैंने आपको देखा है में आपसे प्यार करने लगा हूँ। में

बस आपको देखने की कोशिश करता रहता हूँ और आपसे बात करने का मौका ढूंढता रहता हूँ, लेकिन नाईट ड्यूटी की वजह से अभी तक बात नहीं कर पाया था। आज मौका मिला है तो बोल दिया, आप नाराज़ मत होना आपने बोला था आप मेरे साथ हो इसलिए

मैंने आपको सब सच बता दिया है। फिर मेरी बीवी ने कहा कि इसमें नाराज़ होने वाली कोई बात नहीं है, तुम भी इंसान हो और मर्द भी हो, प्यार पैसे देखकर थोड़ी ना होता है और उम्र का कोई फर्क नहीं पड़ता, बड़ी उम्र के लोग वैसे भी

ज्यादा समझदार होते है। फिर वो चौकीदार यह सुनकर उठा और मेरी बीवी के पास आकर उसका हाथ अपने हाथ में लेकर बोला कि में सच में आपसे बहुत प्यार करता हूँ, आपको कभी तकलीफ़ नहीं दूँगा और आपके पागल पति से बहुत ज्यादा खुश

रखूँगा, आप मुझे बस एक मौका दे दो। में आपको पति छोड़ने की नहीं बोल रहा हूँ, बस मुझे अपना प्यार आपको दिखाने दो और अगर में आपको प्यार नहीं दे पाया तो में दुबारा आपसे कभी बात नहीं करूँगा। फिर मेरी बीवी यह सुनकर मुस्कुरा

दी और बोली कि मुझे पता है तुम मुझे खुश रखोगे और प्यार भी दोगे, ठीक है मुझे मंज़ूर है। फिर वो चौकीदार एकदम से चौंक गया और फिर एकदम से आगे बढ़ा और मेरी बीवी को अपने गले लगा लिया। अब वो गंदा सा बूड़ा मेरी गोरी बीवी से

चिपक गया था, उसने पसीने वाले कपड़े पहने थे, लेकिन मेरी बीवी को कोई परवाह नहीं थी। फिर वो बोली कि मुझे पसीने वाले ही मर्द पसंद है। फिर उसने कहा कि मेम साहब आप सोच भी नहीं सकते कि मैंने कितनी बार आपको मेरे साथ गले

मिलने की सोचा है। अब यह बोलने के बाद वो पागलों की तरह मेरी बीवी के पूरे शरीर पर अपना हाथ लगा रहा था, मुझे आपसे अकेले में मिलने का कब से इंतज़ार था? तो मेरी बीवी मुस्कुराई और बोली कि देखा सपने भी सच होते है। फिर उसने

कहा कि जी मेडम मेरा तो हो गया, क्या में आपके गालों पर किस कर सकता हूँ? तो मेरी बीवी ने हाँ कर दिया। फिर वो गंदा सा बूड़ा चौकीदार मेरी बीवी के पास आ गया और फिर उसने अपने झुरियों वाले मुँह से मेरी बीवी के गोरे गाल पर किस

कर दिया। फिर मेरी बीवी ने कहा कि बस इतना ही बाबा में सिखाती हूँ, फिर मेरी बीवी ने उस चौकीदार को पहले चुइंगम दी और खुद भी खा ली। फिर उसने उस बूढ़े का मुँह अपने हाथ में लिया और उसके लिप्स पर किस करने लगी। अब मेरी बीवी

एक गंदे से आदमी को किस कर रही थी और अब वो भी उसे वापस किस करने लगा था। अब वो मेरी बीवी के मुँह में अपनी जीभ डाल रहा था और मेरी बीवी भी अपनी जीभ से उसकी जीभ रगड़ रही थी। फिर मेरी बीवी हटी और बोली कि बाबा इसको किस बोलते है,

तो उसने कहा कि हाँ जी मेडम मज़ा आ गया, मैंने पहली बार किसी को ऐसे किस किया है। फिर मेरी बीवी ने कहा कि अभी तो बस एक छोटी सी चीज़ सिखाई है, थोड़ी देर रूको में तुम्हें पूरा कामसूत्र सिखा दूँगी, वो चौकीदार यह सुनकर हंस

पड़ा। फिर मेरी बीवी ने उसे बैठा दिया और फिर वो चेंज करने चली गयी। अब वो बूड़ा मेरी बीवी का इंतज़ार करने लगा था। फिर कुछ देर के बाद जब मेरी बीवी बाहर आई तो उसकी आँखे खुली की खुली रह गयी। अब मेरी बीवी ने माइक्रो मिनी

स्कर्ट पहनी थी जो बस उसकी गांड को ही ढक रही थी और उसने लंबी काली हील्स पहनी थी और ऊपर छोटा सा स्लीवलेस टॉप पहना था। फिर उसने कहा कि अब बताओं बाबा में तुम्हें कैसी लग रही हूँ? अब उस चौकीदार का मुँह खुला का खुला रह गया

था और वो कुछ नहीं बोल पाया था। फिर मेरी बीवी बोली कि अरे राजा इधर आओ और मेरे सामने अपने घुटनों पर बैठ जाओं और जैसा में कहूँ वैसा ही करना। फिर वो बूड़ा मेरी बीवी के पास में आया और मेरी बीवी के बिल्कुल सामने अपने

घुटनों पर बैठ गया। फिर मेरी बीवी ने कहा कि अच्छा बाबा अब जैसा में कहूँगी वैसा ही करना, अगर मुझे एक बार भी हाथ लगाना है तो। फिर उसने कहा कि ठीक है जी जैसा आप बोलो, अब यह बोलकर वो बूड़ा मेरी बीवी के सामने बैठ गया। फिर

मेरी बीवी ने अपनी मिनी स्कर्ट उसके सामने थोड़ी ऊपर की और अपनी पेंटी के ऊपर से ही उसको अपनी चूत दिखाते हुए बोली कि यह देख रहे हो पेंटी के अंदर, मेरी चूत तुम्हें कैसी लगी? इतनी छोटी स्कर्ट में दिख तो रही होगी और

तुम्हें मेरी मिनी स्कर्ट कैसी लगी? में तुम्हारे लिए पहनकर आई हूँ। फिर उसने कहा कि मेम साहब आपकी चूत तो बिल्कुल मक्खन की तरह पूरी साफ है और आप मिनी स्कर्ट में किसी एक्ट्रेस से कम थोड़ी ना लगती हो। फिर मेरी बीवी ने

कहा कि शाबाश मुझे यही सुनना था। चल अब मेरे पास आ में तेरे सारे सपने पूरे कर देती हूँ। फिर वो अपने घुटनों पर मेरी बीवी के पास आया और फिर मेरी बीवी ने उसके सिर पर अपना हाथ रखा और उसका मुँह अपनी मिनी स्कर्ट के ऊपर करके

अपनी पेंटी के ऊपर रगड़ने लगी। अब मेरी बीवी पेंटी पहने हुए ही उस बूढ़े का सिर अपनी चूत पर रगड़ रही थी। फिर कुछ देर में उसने उस चौकीदार का सिर हटाया और बोली कि क्यों बाबा मेरी चूत पर तुम्हारा सिर कैसा लगा? तो उसने कहा कि

जी बहुत मज़ा आया, लेकिन अगर आप इजाज़त दो तो में इससे भी ज्यादा मज़े दे सकता हूँ मैंने एक ब्लू फिल्म में देखा था। तो मेरी बीवी ने कहा कि अच्छा आपने ब्लू फिल्म भी देखी है, अच्छा तो ठीक है दिखाओ। फिर वो बूड़ा यह सुनकर

मेरी बीवी के पास आया और फिर उसने मिनी स्कर्ट पहने खड़ी हुई मेरी बीवी की पेंटी पर अपना हाथ रखा और उसकी चूत को ऊपर से ही रगड़ने लगा। अब उसकी उंगली मेरी बीवी की चूत के ऊपर रगड़ रही थी और पेंटी के साथ-साथ थोड़ी अंदर भी जा

रही थी। फिर मेरी बीवी ने कहा कि वाह मेरे राजा तुमने बहुत अच्छा सीखा है, चालू रहो। फिर वो बूड़ा यह सुनकर हंसा और मेरी बीवी की चूत के ऊपर ही अपनी उंगली रगड़ता रहा। फिर जब उसे लगा कि मेरी बीवी थोड़ी गर्म हो गयी है, तो

उसने मेरी बीवी की काली पेंटी थोड़ी सी साईड में कर दी और जब मेरी बीवी उसकी चूत देखने लगी तो उसने मेरी बीवी की चूत में अपनी एक उंगली रगड़नी शुरू कर दी। फिर थोड़ी देर तक अपनी एक उंगली चूत पर ऊपर नीचे करने के बाद उसने

अपनी एक उंगली मेरी बीवी की चूत में घुसा दी। दोस्तों ये कहानी आप सेक्सवासना डॉट कॉम पर पड़ रहे है। अब वो गंदा सा चौकीदार मेरी हिरोइन जैसी बीवी की चूत में अपनी गंदी काली उंगली डाल रहा था। अब वो भी मेरी खड़ी हुई बीवी

की चूत में धीरे-धीरे अपनी एक उंगली अंदर बाहर कर रहा था। अब मेरी बीवी बहुत गर्म हो गयी थी, फिर मेरी बीवी ने कहा कि अरे राजा अब तो में गर्म हो गयी हूँ एक उंगली से काम नहीं चलेगा और अपनी 2 उंगली डाल दो। अब यह सुनकर उस बूढ़े

चौकीदार ने मेरी बीवी की बात मान ली और वो अपनी 3 उँगलियाँ मेरी बीवी की चूत के अंदर डालने लग गया। अब उसकी तीन उँगलियाँ पूरी अंदर जाती और फिर उसके बाद वो दुबारा से बाहर निकालकर पूरी अंदर डाल देता। फिर मेरी बीवी ने कहा

कि अरे मेरे बूढ़े चल तूने बहुत चूत चोद ली, अब मेरे पास अपना मुँह लेकर आ। फिर वो बूड़ा मान गया और फिर वो अपनी उंगलियाँ चूत में से बाहर निकालकर मेरी बीवी की चूत के पास आ गया। फिर मेरी बीवी ने उसका मुँह अपनी चूत पर रखा और

उसको अपनी चूत साफ करने को बोला। तो वो बूड़ा सब समझ गया और उसने अपना मुँह मेरी बीवी कि चूत पर रख दिया और मेरी बीवी की चूत साफ करने लगा। अब उसकी जीभ मेरी बीवी की चूत पर ऊपर नीचे हो रही थी। अब मेरी बीवी खड़ी हुई थी और

उसने अपना एक हाथ उस बूढ़े के सिर पर रखा था और उस बूढ़े का मुँह अपनी चूत पर रगड़ रही थी। अब वो बूड़ा चौकीदार मेरी बीवी की चूत चाट रहा था, फिर उसने अपनी जीभ बाहर निकाली और मेरी बीवी की चूत की दरार में डाल दी। अब उसकी जीभ

मेरी खड़ी बीवी की टाँगो के बीच में चूत के अंदर बाहर हो रही थी। अब वो अपनी पूरी जीभ अंदर डाल देता और फिर से बाहर निकालकर फिर से वही करता। फिर उसने चूत को अपने होठों से पकड़ लिया और खींचने लगा। अब मेरी बीवी की चूत उसके

मुँह में थी और वो कभी दाँत से तो कभी होठों से काटकर खींच रहा था। अब मेरी बीवी से रहा नहीं गया और वो उस बूढ़े के मुँह पर ही झड़ गयी। फिर मेरी बीवी ने कहा कि वाह बाबा मेरे पति को भी यह सब सिखा देना, उसको तो यह सब करना आता

भी नहीं है। फिर मेरी बीवी ने कहा कि अच्छा में झड़ गयी हूँ, लेकिन तुम मेरे पास आ जाओ, मुझे काफ़ी दिनों के बाद किसी ने चाटा है मज़ा आ गया, चलो अब में तुम्हें अपना कमाल दिखाती हूँ। फिर मेरी बीवी उठी और फिर उसने उस बूढ़े

चौकीदार को खड़ा किया और अपने सामने खड़ा कर लिया और वो खुद अपने घुटनों पर आ गयी। फिर मेरी बीवी ने कहा कि क्यों बाबा आपका लंड खड़ा हुआ या नहीं? तो उसने कहा कि मेडम अभी आधा खड़ा हुआ है, ज्यादा उम्र में टाईम लगता है। फिर

मेरी बीवी ने कहा कि कोई बात नहीं जान, मेरा काम लंड खड़ा करना ही तो है, आधा है तो क्या हुआ? मेरे सामने कोई लंड ढीला नहीं रहता तैयार हो मज़े लेने के लिए, अब पहले यह बताओ कि तुम्हारा लंड कभी किसी ने चूसा है? फिर उसने कहा

कि 2 या 3 बार मेडम, एक बार जब मेरा एक दोस्त गावं से आया हुआ था तो वो मेरे साथ ही रहता था। हम एक रात शराब पीने के बाद ब्लू फिल्म देख रहे थे, तो उसने मेरे सामने अपना लंड बाहर निकाला और मुठ मारने लगा। फिर उसका लंड देखकर

मैंने भी अपना लंड बाहर निकाल लिया और तैयार हो गया। फिर मेरे दोस्त ने मेरा लंड देखा और उसने बिना कुछ बोले अपना हाथ मेरे लंड पर रख दिया। फिर कुछ देर तक हिलाने के बाद उसने बिना कुछ बोले मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया

और उसे चूसने लगा। वो मेरा पहली बार था जब किसी ने मेरा लंड चूसा था इसलिए शायद मुझसे रहा नहीं गया और में 15 या 20 सेकेंड में उसके मुँह में ही झड़ गया। उसने मेरा लंड और 2 बार चूसा था और बाकी 2 बार तो मैंने एक सड़क की औरत को

अपने घर लाकर उसके मुँह में अपना लंड दिया था और में 10 मिनट में ही उसके सामने झड़ गया था, वो गंदी सी थी लेकिन क्या करूँ? और कोई था भी नहीं। फिर मेरी बीवी ने कहा कि कोई बात नहीं, देखो में तुम्हें मस्त तरीके से सिखाती

हूँ। अब यह बोलकर मेरी बीवी ने उसकी पेंट की चैन खोली और उसका लंड बाहर अपने मुँह के पास हवा में ले आई, उसका लंड छोटा सा था। उसका लंड लगभग 2 इंच का था और आधा खड़ा हुआ था और अफ्रिकन की तरह काला था। फिर मेरी बीवी ने उसका लंड

अपने हाथों में लिया और उस गंदे से काले लंड को अपने हाथ में लेकर हिलाने लगी। फिर मेरी बीवी ने कहा कि बाबा थोड़ी बदबू आ रही है, साफ नहीं किया क्या? तो उसने कहा कि नहीं मेडम, पता होता तो कर देता, अब आप ही इसको साफ कर दो।

फिर मेरी बीवी बाथरूम से साबुन ले आई और उस गंदे से, काले से लंड को साफ करने लगी। फिर मेरी बीवी ने कहा कि यह लो बाबा अब तुम्हारे लंड से बिल्कुल अच्छी खुशबू आ रही है। फिर यह बोलकर मेरी बीवी ने उसका लंड अपने हाथ में ले

लिया और दुबारा से हिलाने लगी। अब उसका लंड लगभग खड़ा हो चुका था, फिर मेरी बीवी ने कहा कि बाबा यह तो खड़ा होने वाला है मैंने कहा था ना। फिर उसने कहा कि हाँ मेडम अब देखते है, आगे क्या करते हो? फिर मेरी बीवी ने सुना और

हंसकर उस गंदे से आदमी का लंड अपने होठों पर रखा और उसका खड़ा 4 इंच का लंड अपने मुँह में पूरा ले गयी। अब उसके बड़े लिप्स के बीच में वो काला सा, छोटा सा लंड अंदर जा रहा था। अब वो अपने घुटनों पर रंडी की तरह बैठी थी और अपने

गंदे बूढ़े आशिक़ का लंड चूस रही थी। अब वो बूड़ा खड़ा था और अपनी आँखे नीचे करके मेरी बीवी को अपना लंड मुँह में लेते हुए देख रहा था। अब उसके सामने मेरी बीवी का मुँह उसके लंड पर आगे पीछे हो रहा था। फिर उसने कहा कि वाह

मेरी जान आप क्या मस्त हो? मेरा लंड इतना ज्यादा कभी नहीं तना था, तुम्हारे चूसते ही मेरा लंड खड़ा हो गया था। तुम्हारे मुँह में मेरा लंड जाते हुए देखकर बहुत मज़ा आ रहा है। अब मेरा मन कर रहा है कि ऐसे ही पूरी रात

तुम्हारे मुँह में अपना लंड देता रहूँ और चूसो मेरा लंड, जानेमन एक बूँद भी वेस्ट मत जाने देना। अब मेरी बीवी यह सुनकर और भी तेज़ी से अपना मुँह उस चौकीदार के लंड पर आगे पीछे करने लगी थी। अब उसका पूरा लंड मेरी बीवी के

मुँह में जा रहा था, अब मेरी बीवी मस्ती से उसका लंड चूस रही थी। अब एक बूढ़े और जवान औरत का मिलन हो रहा था और मेरी बीवी अपनी सारी मर्यादा को तोड़कर उस बूढ़े का लंड अपने मुँह में ले रही थी। फिर वो बूड़ा बोला कि मेडम में

झड़ने वाला हूँ और मेरी बीवी ने यह सुना और अपने मुँह से उसका लंड बाहर निकाला और उसके लंड को अपने मुँह के पास लाकर हिलाने लगी। अब उस चौकीदार ने मेरी बीवी के हाथ में ज़ोर से 2 या 3 झटके दिए और फिर उसने मेरी बीवी के मुँह

के ऊपर ही अपनी पिचकारी छोड़ दी। अब मेरी बीवी का मुँह उसके माल से ढक गया था और फिर वो दोनों उठे और सोफे पर आ गये। फिर मेरी बीवी ने कहा कि वाह बाबा इतना माल निकला है मज़ा आ गया। फिर उसने कहा कि हाँ मेडम आप तो बहुत अच्छा

लंड चूसती हो, लगता है आपको काफ़ी अनुभव है। फिर मेरी बीवी ने कहा कि हाँ बाबा मैंने शादी से पहले काफ़ी लंड चूसे है कभी बॉयफ्रेंड के तो कभी किसी पराए मर्द के। मैंने काफ़ी बार तो सिर्फ़ पैसे के लिए भी लंड चूसे है में 5000

रुपए हर पिचकारी के लेती थी। फिर उसने कहा कि वाह मेडम आप तो सही में बहुत बड़ी रांड निकली। फिर मेरी बीवी उससे बोली कि आज के लिये बस इतना ही, अब हम चुदाई अगली बार करेंगे। दोस्तों उसके कुछ दिन बाद ही वो बूड़ा अपने गावं चला

और मेरी बीवी का सपना अधूरा रह गया ।।

Give Ur Reviews Here