Home
Category
Sex Tips
Hinglish Story
English Story
Contact Us

भाभी को चुदाई सुख दिया


दोस्तों ये कहानी आप सेक्सवासना डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

हेलो दोसतो मेरा नाम रवी हे और मे मुबई का रहने वाला हु। मेरी उमर 23 साल हे। तो दोसतो अब तक आपने सायद मेरी दो कहानीया पढली होगी जीस मे मेने बताया था की केसे मेने अपनी गाव मे रहेती हे वो चाची को और अपनी भाभी को अपने लड

के मजे दीये थे। पहेली बार चाची की चुदाई के बाद जेसे मेरे नसीब का ताला खुल गया और ऐक के बाद ऐक चुत मेरे लड की पयास बुजाने आने लगी। पहेले चाची फीर मेरी भाभी और अब मेरी दोसत जीसकी चुत के मेने दो महीने पहले ही मजे लेने

शुरु कीये हे। तो दोसतो आपका जादा समय ना लेते हुऐ मे अपनी कहानी शुरु करता हु। तो दोसतो मे अपनी दोसत मीना के बारे मे आपको बताता हु। मीना और मे ऐक ही पाढशाला मे पढे थे। बचपन से साथ पढते होने की वजसे हम दोनो मे अची

दोसती हो गई थी। दसवी कशा के बाद हम सब अलग हो गये। और मे आगे की पढाई के लीऐ पुणे चलाया गया। पर दो साल पहले फेसबुक पे मुजे मेरे पाढशाला के सारे दोसत मील गये।और ऐक दीन हम सब दोसतो ने मीलने का पलान बनाया। उस दीन मेने

मीना को पाच साल के बाद देखा था। उस दीन सब उसे देख कर हेरान हो गये थे। जो लडकी पहले ऐकदम पतली थी वो अाज भेस जेसी मोटी हो गई थी। सब थोडी देर उसका मजाक उडाया फीर सब पुराने हसीन पलोको याद करने लगे। उस दीन के बाद जभी हमे

समय मीलता तो सब दोसत मील कर गुमने का पलान बना कर गुमने जाने लगे। जभी हमे टेन से जाते और गदी होती तब मे अकसर मे मीना के कथे पर हाथ रख कर सहला ता था। कभी जयादा गदी होती तो गाड पे भी हाथ फीरा लेता था। अची दोसत होने के

कारन वो ऐसा समजती होगी की भुल से लग गया होगा। ईस लीऐ कुस बोलती नही थी। ईस तरह दो साल बीत गये ईस दोरान मेने अपनी चाची और भाभी के चुत के मजे लीऐ थे। पर ऐक दीन मे कीसी काम से बहार गया था। जहा मेरी मुलाकात मीना से हुई।

वो भी अपना काम खतम कर के धर जा रही थी। थोडी देर बात करने के बाद मीना ने मुजे अपने धर आने को कहा। थोडी देर मेने मना कीया पर फीर मे उसके धर जाने के लीऐ तैयार हो गया। उसके धर पे जाके देखातो धर पर ताला लगा हुआ था। तो

मीना ने अपनी चाबी से ताला खोला फीर हम दोनो अदर गये। फीर मुजे पानी दीया और चाय बना ने के लीऐ कीचन मे गई। चाय बना ते समय मीना ने अपनी ममी को फोन कीया तो उसे पता चला की उसकी ममी कीसी काम से बहार गई हे और आने मे शाम हो

जायेगी। फीर चाय पीने के दोरान हम दोनो बात कर रहे थे उस समय उसने वी-नेक वाली टीसट पहने होने के वजसे उसके बडे बडे बोल साफ दीख रहे थे। धर पर आने के बाद उसने अपनी गलेकी चुदरी भी नीकाल दी थी। उस बजसे मेरा बार बार उधर ही

धयान जा रहा था। दोस्तों ये कहानी आप सेक्सवासना डॉट कॉम पर पड़ रहे है। थोडी देर बाद वो बोली की कभी कीसी लडकी के देख नही हे कया। ईतने पसद आये हे कया। ये सुन कर मे थोडा हेरान हो गया। और बोला की ऐसी कोय बात नही हे। गलती

से नजर चली गई थी। उसने कहा मतलब पसद नही आये। फीर वो थोडा उदास हो कर बोली की ईस मोटा पे के वजसे कोय लडका मेरी सामने नही देखता। सब को पतली और सेकसी लडकी ही चाहिये। मे उसके पास गया और उसके कथे पर हाथ रख कर कहा की कोन

कहेता हे की तुम सेकसी नही हो। फीर वो मेरी और पास आके बोली की तुम चाहो तो हमारी दोसती के फायदे ले सकते हो। ये सुन कर मे हेरान हुवा पर मेने उस मोके को जाने देना नही चाहता था। मेने तुरत उसके बडे बडे बोल को अपने हाथो

मे ले कर मसने लगा। फीर मेने कहा की मे ईस बडे बोल के मजे दो साल से लेना चाहता था पर तुमारे साथ दोसती ना तुट जाये ईस वज से डरता था। वो हस कर बोली ईस मे डरने की कया बात हे। मेरे साथ दोसती की हे तो कुस फायदे भी मीलने

चाहीये ना। यह कहे कर वो हसने लगी। फीर मेने उसको अपनी और खीच कर उसके कोमल होथो को चुमने लगा। और जोर जोर से बोल को दबाने लगा। थोडी देर बाद मेने उसे अपने हाथ से मेरे लड पर रख दीया और उपरसे ही सहलाने लगी। भाभी की

चुदाई के पाच महीने बाद कीसी चुत को चोदने का मोका मील रहा था। ईस लीऐ मेरा लड चुदाई करने के लीऐ चडी मे से बहार नीकल ने की कोसीस करने लगा। थोडी देर कीस करने के बाद मे खडा हो गया और अपने पेनट और चडी नीकाल कर अपना खडा लड

मीना के मुह के सामने रख दीया। वो पहने मेरे लड को हाथ मे रख कर गोर से देखने लगी। उसने पहले कथी लोडे के दरशन नही कीये थे। ईस लीऐ वो मेरे लड को पाकर आज बडी खुश हो गई थी। फीर उसने मेरे लड को थोडी देर हाथ से मसने लगी। ईस

दोरान मेरा लड थोडा गीला हो गया था। फीर उसने अपने हाथ पर लगा हुआ पानी जीब से चाटा और मेरे लड को लोलीपोप के जेसे मुमे डाल कर चाट ने लगी। फीर मेरा पुरा लड अपने मुहमे डाल कर जोर जोर से हीलाने लगी। मे भी उसके सर को पकड

को लड की और दबाने लगा।और थोडी देर बाद मेरे लड का सारा पानी उसके मुह मे डाल दीया। जब तक मेरे लड का पानी की आखरी बुद उसके मुहमे ना ली तब तक उसने लड को बहार नही नीकाला। अब मेने उसके कपडे नीकाल दीये और उसको नगा कर

दीया। मेने देखा की उसका पेट पे बहुत जायादा चरबी थी। और बोल भी जादा बडे थे। उसके गोरे नगे बदन को मेरा लड धीरे धीरे फीर चुदाई के लीऐ तैयार होने लगा। फीर मेने उसको पास बीथा कर उसके बोल को दबाने लगा और चुसने लगा और हल

के हल के काट भी लेता था। मेने देखा की अब उसकी आग बहुत बड गई हे तो मेने उस को बेड पर लीटा कर उसकी दोनो टागो को खोल कर उसकी चुत के दरशन कीये। दोनो जाधो पर बहुत चरबी होने के कारन उसकी चुत उस के पेर खोले बीना देखना

मुशकेल था। उसकी चुत हलके बालो थे। अब तक मेने बीना बालो की चुत को ही चाटा था पर आज मुजे बालो वाली चुतको चाटना था। मुजे उसे पुरा मजा देना था उस लीऐ मेरे बालो वाली चुत चाटने का तय कीया। मेने पहले उसकी चुत पर घीरे

घीरे हाथ घुमाया फीर ऐक उगली चुत मे दाली। फीर दुसरी और फीर तीसरी उगली दालने लगा तो वो बोली घीरे करो दद हो रहा हे। मे समज गया की ईसकी चुत कसी हुई हे। अब तक मेने दो चुत को चोदा था पर वो दोनो पहले से ही चुदी हुई थी। पर

उस दीन मुजे बीना चुदाई की हुई चुत को चोदने का मोका मीला था। फीर मेने उस की चुत को हल के हल के जीब से चाटने लगा। ईस दोरान उस के बाल मेरे मुह मे बार बार आ रहे थे। फीर मेने उसके बालो को हाथो से हटा कर उसकी चुत को चाटना

चालु कीया। ईस दोरान वो बडी मादक आवाज नीकाल ने लगी। आआआआआईईईईईएएएएअअअअअ.......और मेरे सर पर हाथ रख कर मेरे सर को चुत की और दाबाने लगी। वेसे मुजे दो चुत को चाटने का अनुभव था ईस लीऐ मे उसकी चुत मे अपनी जीब को अदर तक

दालता था। उसे भी चुत चटवाने मे बडा मजा आरहा था। थोडी देर बाद वो जडने लगी और उसका सारा माल मेरे मुह पर सोड दीया। उसका पानी मेरे पुरे मुह पर आ गया। ये देख कर वो पहले हसने लगी फीर उसने मेरा पुरा मुह साफ कीया। अब मेरा

लड चुदाई के लीये तैयार हो गया था। फीर मे ने अपने जेब मे से कोनडोम नीकाल कर उसके हाथ मे रख दीया। वो भी चुदाई करवाने के लीऐ बहुत बेताब थी ईस लीऐ उसने मेरे लड पर कोनडोल लगा दीया और बेड पर लेट गई। फीर मेने उसके पेरो को

खोल कर उसके चुत पर लगा पानी कपडे से साफ कीया और फीर खडे हो कर उसकी चुत पर मेरा लड रगड ने लगा। अब मेने धीरे धीरे उसकी चुत मे लड दालने लगा। पर उसकी चुत कसी होने के कारन लड जा नही रहा था तो मेने उसके दोनो पर को कस कर पकड

कर जोर से अपने लड को चुतमे दाल दीया। मेरे लड चुतने जाते ही वो चीलाने लगी। मेेने जोर जोर से लड को चार पाच बार अदर बहार कर दीया था पर वो जयादा चीला रही थी ईस लीऐ मेने अपने लड को बहार नीकाल दीया। मेने उसकी और देखा तो

उसकी आख मेसे आसु नीकल रहे थे। ओर उसकी चुत मे से खुन नीकल रहा था। मेरी भाभी ने मुजे ईस के बारे मे बताया था की पहेली बार चुदाई के दोरान खुन नीकलता हे। फीर मेने उस की चुत को साफ कीया और फीर उसको बाहो मे ले कर कीस करने

लगा। थोडा देर बाद उसका दद कम हुआ तो मे फीर खडा हुआ और चुदाय चालु करना चालु कीया। मेने फीर जेसे ही लड अदर दाला वो चीलाने लगी पर ईस बार मे नही रुका और उस की चुत मे धीरे धीरे लड दालता रहा। वो पहले जोर जोर से चीलाने

लगी..ईईईईईऊऊऊआआआआआईईइइअअअ...फीर थोडी देर मे उसका आवाज कम होने लगा। फीर मे जोस मे आ गया और जोर जोर से उसकी चुत मे दालने लगा। अभी उसको भी मजा आने लगा था। थोडी देर खडे रहे कर चोदने के बाद मे उसके उपर आ गया और उसकी को

चोद ना चालु कीया। मेने उसके दोनो बोल को मसने लगा। उसे बहुत दद हो रहा था फीर उसने मुजे अपनी बाहो मे भर लीया और मुजे कीस करने लगी। थोडी देर बाद मेरा लड पानी चोडने वाला था तो मेने उसे कस कर पकड लीया और उसने भी मुजे

पकड लीया और हम दोनो ऐक साथ जड गये। थोडी देर तक मे उसके उपर ही सोया रहा और वो मुजे कीस करने लगी। हमारी चुदाई करते हुऐ ऐक धनटा हो गया था और मीना की ममी का आने का टाईम होने वाला था। फीर हम दोनो ने बाथ रुम मे जाके अपने

आप को साफ कीया और फीर मे उसको कीस कर के नीकल गया। उस दीन मुजे उसकी और चुदाई करनी थी पर उसकी ममी के आने के डर से उस दीन बस ईतना कर के चला आया। पर उस दीन के बाद हम दोनो अपनी दोसती के फायदे लेने लगे। और जबी उसके धर पर

कोयई नही रने वाला होता उस दीन जम कर मे उसकी चुदाई करता। मेने मीना की सेटीग मेरे दोसत के साथ करा दी जीससे वो बडी खुस हे। और अब वो उसके लड के मजे लेती हे और जब मोका मीलता तब मे भी मीना की दोसती का फायदा ले लेता

हु। दोस्तों ये कहानी आप सेक्सवासना डॉट कॉम पर पड़ रहे है। तो दोसतो केसी लगी मेरी कहीनी बताना मत भुलना। और मुजे मेल करना भी मत भुलना। अगर कीसी लडकी या भाभी को अपनी चुतकी अाग को शात करना हो तो मुजे जरुर बताना मे

अपना 7 ईस का लड लेके चुतकी आग बुजाने आजाऊगा। ये मोका सीरफ मुबई की भाभी और लडकी के लीये ही हे। मेरा ईमेल आडी mukeshwadher353535@gmail.com हे। और मेरी ये कहानी के बारे मे जरुर बताना।
दोस्तों आज की एक और नई सेक्स कहानी पड़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।
Notice For Our Readers

दोस्तो डाउनलोड क्र्रे हमारा अफीशियल आंड्राय्ड अप (App) ओर अनद लीजिए सेक्स वासना कहानियो का . हमारी अप(App) क्म डेटा खाती है और जल्दी लोड होती है 2जी नेट मे वी ..अप(App) को आप अपने फोन मे ओपन रख सकते है

अप(App) का डिज़ाइन आपकी प्राइवसी देखते हुए ब्नाई गयइ है.. अप(App) का अपना खुद का पासवर्ड लॉक है जिसे आप अपने हिसाब से सेट कर सकते ह .जिसे दूसरा कोई ओर अप(App) न्ही ओपन क्र सकता है और ह्र्मारी अप(App) का नाम sxv शो होगा आफ्टर इनस्टॉल आपकी गॅलरी मे .

तो डाउनलोड करे Aur अपना पासवर्ड सेट क्रे aur एंजाय क्रे हॉट सेक्स कहानियो का ...
डाउनलोड करने क लिए यहा क्लिक क्रे --->> Download Now Sexvasna App

हमारी अप कोई व किसी भी तारह के नोटिफिकेशन आपके स्क्रीन पर सेंड न्ही करती .तो बिना सोचे डाउनलोड kre और अपने दोस्तो मे भी शायर करे

   Please For Vote This Story
8
3